Friday , July 30 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / यूपी विधानसभा चुनाव के पहले छिड़ा पोस्टर वार, कानपुर में लगे पोस्टर- ‘चंदा चोरों से सावधान’

यूपी विधानसभा चुनाव के पहले छिड़ा पोस्टर वार, कानपुर में लगे पोस्टर- ‘चंदा चोरों से सावधान’

यूपी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अब होर्डिंग्स का खेल शुरु हो गया है। थोड़े ही दिन पहले यूपी के अलग अलग शहरों में अब यूपी में खेला होई के होर्डिंग लगाए गए थे। अब अचानक से रातोंरात ‘चंदा चोरों से सावधान‘ के होेर्डिंग्स लगा दिए गए हैं। किसी को भी पता नहीं कि ये होर्डिंग्स किसने लगवाए हैं। अचानक से कानपुर के लोग जब सुबह सुबह जगें तो उन्हें चंदा चोरों से सावधान के ये होर्डिंग्स दिखाई देने लगें।

मिली जानकारी के अनुसार, कानपुर शहर के व्यस्ततम माने जाने वाले बर्रा के सचान चौराहे पर चंदा चोरों से सावधान के ये होर्डिंग्स लगाए गए हैं। पुलिस को इस बारे में कोई जानकारी नहीं कि ये होर्डिंग कब और किसने लगवाया।

कानपुर पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद ही पता लग पाएगा कि ये हरकत किसकी है? सीसीटीवी की मदद से जांच की जा रही है।

मालूम हो कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में खेला होबे का नारा सुपर हिट होने के बाद यूपी में भी इसका भोजपुरी वर्जन लाॅन्च कर दिया गया।

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में सपा के पूर्व विधायक अब्दुल समद अंसारी ने कई जगहों पर अब यूपी में खेला होई लिखे हुए होर्डिंग्स लगवा दिए।

यूपी में खेला होई का नारा तो फिर भी कुछ हद तक ठीक था लेकिन चंदा चोरों से सावधान का बैनर अप्रत्यक्ष रुप से भाजपा को परेशान करने वाला है क्योंकि यूपी की राजनीति में पिछले कुछ दिनांे से श्रीरामजन्मभूमि मंदिर निर्माण में जमीन घोटाले का आरोप लगाया जा रहा है।

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह और समाजवादी पार्टी के नेता पवन पांडेय ने अलग अलग इस मुद्दे को उठाया और फिर लगातार यूपी की सियासी फिजाओं में चंदा चोरी के मामले गूंजने लगे।

भाजपा के कई नेताओं पर सस्ते दर पर जमीन खरीद कर काफी महंगी कीमतों में श्रीरामजन्मभूमि ट्रस्ट को बेचने के मामले सामने आ गए।

रामभक्तों में इस प्रकरण को लेकर ट्रस्ट के प्रति जहां नाराजगी बढ़ी तो वहीं विपक्ष ने इसे चुनावी हथियार बना लिया।

ये अंदाजा लगाया जा रहा है कि ये होर्डिंग भाजपा के विरोध में ही लगाया गया है लेकिन ये किसने लगवाया है, इस पर कुछ भी लिखा हुआ नहीं है।

इस पर यह भी नहीं लिखा हुआ है कि आखिर चंदा चोर कौन है लेकिन बार बार विपक्ष के द्वारा चंदा चोरी के मुद्दों पर भाजपा को ही घेरा जा रहा है।

loading...

Check Also

कोरोना ने अरमानों पर फेरा पानी : दूल्हा तीन बार निकला संक्रमित, बिना दुल्हन लौटी बारात

पीलीभीत से उत्तराखंड जा रही एक बारात को बगैर दुल्हन के ही बॉर्डर से लौटना ...