Saturday , July 24 2021
Breaking News
Home / खबर / Sulli Deals : सोशल साइट्स पर फोटोज की सेफ्टी जरूरी, ये कदम उठाएं महिलाएं

Sulli Deals : सोशल साइट्स पर फोटोज की सेफ्टी जरूरी, ये कदम उठाएं महिलाएं

नई दिल्ली : आजकल Sulli Deals App चर्चा में है. इसमें मुस्लिम महिलाओं के नाम, फोटो और सोशल मीडिया प्रोफाइल शेयर किया जा रही हैं. इस एप का पता तब चला, जब लोगों ने Twitter पर डील्‍स ऑफ द डे शेयर (Deals of the Day Share) करना शुरू किया. इसमें महिलाओं के नाम के आगे कीमत लिखी गई थी, लेकिन यह पहली बार नहीं है, जब भारत में महिलाओं की तस्वीरों का बड़े पैमाने पर दुरुपयोग किया गया हो. इससे पहले भी इस तरह के मामले सामने आए हैं.

मई में, भारत के एक Youtube channel Liberal Doge ने लाइव वीडियो स्ट्रीम किया था. इसमें महिलाओं की ईद उल-फितर की तस्वीरें उनकी सहमति के बिना उनके नाम और Twitter हैंडल के साथ पोस्ट की गई थीं. इसकी ऑनलाइन ‘नीलामी’ की गई. तस्वीरों पर लोग अश्लील टिप्पणी कर रहे थे और उनकी बोली लगा रहे थे. चैनल को रितेश झा नाम का व्यक्ति चला रहा था. लोगों ने सोशल मीडिया के जरिए इसका विरोध किया था. कुछ महिलाओं ने पुलिस में Youtube channel के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई थी. इसके बाद कुछ प्रोफाइल, जिन्होंने महिलाओं की तस्वीरें पोस्ट कीं, पोस्ट को हटा दिया या उनके खातों को लॉक कर दिया गया था.

जी हां ‘Saree Challenge’ में शेयर की गई तस्वीरों का भी गलत इस्तेमाल किया गया. इस चैलेंज में शामिल लड़कियों और महिलाओं को इसकी भनक भी नहीं थी कि उनकी तस्वीरों को डाउनलोड करके अश्लील तरह से शेयर कराया जा रहा है. बात तब पता चली जब महाराष्ट्र साइबर सेल ने लोगों को आगाह किया.

महाराष्ट्र साइबर सेल ने ‘Deep Nude’ नाम की एक वेबसाइट और इसके कई संस्करणों के प्रति आमजन को अप्रैल 2020 में आगाह किया था. ‘Deep Nude’ नाम की वेबसाइट किसी भी साइट पर अपलोड महिला की सामान्य तस्वीरों को डाउनलोड करके आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग उसकी नग्न तस्वीर बना देती थी. इसमें महिलाओं में लोकप्रिय Saree Challenge जैसे हालिया रुझान शामिल हैं, जहां महिलाएं अपने Social Media अकाउंट पर अपनी तस्वीरें अपलोड करती हैं, उसे अपनी मित्रों और ग्रुप में शेयर करती हैं. इसका गलत इस्तेमाल डीप न्यूड वेबसाइट करती थी.

मुंबई में अगस्त 2019 में एक matrimonial website पर पंजीकृत कई महिलाओं की तस्वीरों का दुरुपयोग किया गया. इस बारे में एक मैरिज पोर्टल ने पुलिस को अपनी शिकायत दी थी. वैवाहिक साइट ने कहा था कि कई महिलाओं की तस्वीरों को मॉर्फ किया गया और एक वीडियो में इस्तेमाल किया गया, जिसे आगे सोशल मीडिया पर पोस्ट किया गया. वीडियो को एक खास यूट्यूब चैनल पर पोस्ट किया गया था.

मुंबई में जुलाई 2017 में एक फेसबुक पेज पुरुष उपयोगकर्ताओं को friendship’ and ‘naughty chats’ की पेशकश की गई थी. जिसके लिए लड़कियों-दोनों वयस्कों और नाबालिगों की तस्वीरों का उपयोग किया गया था. यह मामला साइबर पुलिस (Cyber Police) की जांच में सामने आया था.

जनवरी 2016 में एक और मामला सामने आया था. हैकर्स ने 70 फेसबुक (Facebook) यूजर्स का पर्दाफाश किया था, जो सोशल मीडिया साइट पर महिलाओं की तस्वीरें चुराकर नए पेज बनाते थे और भद्दे कमेंट करते थे.

सोशल साइट्स पर फोटो अपलोड करते समय बरतें सावधानी

  • गोपनीयता सेटिंग्स का प्रयोग करें. यह अजनबियों को चित्रों तक पहुंचने की अनुमति नहीं देता है.
  • किसी पोस्ट के दर्शकों को सीमित करें (उदाहरण के लिए, केवल परिवार तक).
  • फेसबुक जैसी सोशल मीडिया सेवा पर closed, invite-only group समूह बनाएं.
  • अपने फोन का जीपीएस बंद कर दें.
  • अपने बच्चों के लिए उपनाम का उपयोग करने पर विचार करें.
  • Google फोटो और फ्लिकर जैसी फोटो-साझाकरण साइटों का उपयोग करने के बारे में सोचें, जिनके लिए उपयोगकर्ताओं को फोटो देखने के लिए लॉग इन करने की आवश्यकता होती है.
  • आपके द्वारा पोस्ट की जाने वाली फोटो में अपने बच्चे के दोस्तों को शामिल न करें.
  • व्यक्तिगत रूप से पहचान योग्य कोई भी जानकारी शामिल न करें, जैसे आपके घर का पता, संकेत.
  • महिलाएं एवं लड़कियां अपने कम से कम फोटो सोशल मीडिया पर शेयर करें.
  • सोशल मीडिया पर फ्रेंड सर्किल को सीमित रखें.
  • अपरिचित लोगों को सोशल मीडिया पर अपना फ्रेंड न बनाएं.

loading...

Check Also

वैक्सीन लगाने को लेकर आपस में भिड़ गईं महिलाएं, जमकर हुई मारपीट, वीडियो वायरल

खरगोन एमपी के खरगोन जिले में वैक्सीन को लेकर जबरदस्त मारामारी (People Crowd For Vaccine) ...