Monday , June 14 2021
Breaking News
Home / ऑफबीट / राजस्थान की राजधानी बन गई कोरोना-कैपिटल, मौत की संख्या देख सबको लगा सदमा

राजस्थान की राजधानी बन गई कोरोना-कैपिटल, मौत की संख्या देख सबको लगा सदमा

राजस्थान की राजधानी में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3291 पहुंच गई। सोमवार को 30 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। यहां अब तक कोरोना संक्रमण की वजह से 157 मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, 2526 मरीजों की टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है। ऐसे में अब 608 मरीज ऐसे है। जिनका कोविड अस्पताल में उपचार चल रहा है। वहीं जयपुर में 365 संक्रमित ऐसे भी प्रवासी राजस्थानी है, जो कि पिछले दिनों वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों व अन्य राज्यों से यहां आए थे।

सोमवार को जयपुर में प्रताप नगर, मानसरोवर, मालवीय नगर, कोटपूतली, बड़ी चौपड़, सोडाला, झोटवाड़ा, निवारू रोड, एसएमएस अस्पताल, वैशाली नगर, ईमली फाटक, मंडी खटीकान, विद्याधर नगर, शास्त्री नगर, घाटगेट, टोंक फाटक व विभिन्न क्वारेंटाइन सेंटर्स पर 30 नए कोरोना संक्रमित केस सामने आए।

इसी बीच कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की वजह से अटकी राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की दसवीं की परीक्षा सोमवार को फिर से हुई। सोमवार को सुबह 8:30 बजे सामाजिक विज्ञान का पेपर शुरू हुआ, जो कि पौने 12 बजे खत्म हुआ। परीक्षार्थियों को एक घंटे पहले परीक्षा केंद्रों पर पहुंचने के निर्देश दिए गए थे। इस दौरान स्कूलों में थर्मल स्क्रीनिंग की गई। छात्रों को मास्क लगाए रखने के निर्देश भी दिए गए। इसके बावजूद परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा शुरु होने व खत्म होने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती नजर आई।

इसी तरह से 22 मार्च के बाद सोमवार से प्रदेश में हाईकोर्ट सहित सभी अधीनस्थ अदालतों में सुनवाई शुरु हुई। लॉकडाउन की वजह से पिछले करीब 100 दिनों से ये कोर्ट बंद पड़ी थी। हाईकोर्ट में सुबह 10:30 बजे से शाम 4:30 बजे तक न्यायिक काम किया जाएगा। आज वकील भी उत्साह के साथ कोर्ट पहुंचे। हालांकि, कोरोना संक्रमण का डर बना रहा। आज आम दिनों की अपेक्षा कोर्ट परिसर में कम भीड़ नजर आई।

कोर्ट में वकील फेस मास्क लगाकर काम करते नजर आए। वहीं, फाइलें बरामदों में पड़ी रही। जानकारी के अनुसार हाईकोर्ट में दोपहर 1 बजे से 2 बजे तक लंच रहा। यहां प्रत्येक अदालत में अधिकतम 100 केस ही सूचीबद्ध रखने की जानकारी है। अधिवक्ता, पक्षकार व स्टाफ के लिए मास्क लगाना अनिवार्य रखा गया। इससे पहले अत्यंत जरुरी केसों की वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए भी सुनवाई की गई।

loading...
loading...

Check Also

गोल्ड स्मगलिंग का हब बना लखनऊ, ऐसे-ऐसे तरीकों से लोग लाते हैं सोना कि पूछिए मत!

लखनऊ. Gold Smuggling in Lucknow- सोने पर 12.5 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी एवं 3.0 प्रतिशत जीएसटी के ...