Monday , December 6 2021
Home / उत्तर प्रदेश / राज्यों को आई अपने लोगों की याद, जून तक बढ़ेगी लॉकडाउन की मियाद?

राज्यों को आई अपने लोगों की याद, जून तक बढ़ेगी लॉकडाउन की मियाद?

देश में कोरोना ( coronavirus ) पीड़ितों की संख्या 26 हजार को पार कर गई है. अब तक कोरोना के 26,917 मरीज पाए गए हैं जिसमें से 826 लोगों की मौत हो गई है जबकि 20,177 लोग कोरोना पॉजिटीव ( Coronavirus Positive ) हैं. 5914 लोगों को देश के विभिन्न अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया है. वहीं, देशव्यापी लॉकडाउन ( Lockdown ) को एक महीने का समय हो चुका है. लॉकडाउन का यह दूसरा चरण 3 मई को खत्म होगा.

लेकिन कई राज्य अन्य राज्यों में फंसे अपने लोगों को वहां निकालने की जल्दबाजी में दिखाई दे रहे हैं. ऐसे ही कई जगहों पर इन राज्यों ने अपनी बसें भेज दी हैं. इस बीच हजारों की संख्या में प्रवासी तो अपने-अपने गृह राज्यों में पहुंच भी चुके हैं. इसकी शुरुआत शनिवार को उत्तंर प्रदेश ने की. मध्य प्रदेश सरकार ने भी महाराष्ट्र को चिठ्ठी लिख वहां फंसे लोगों को वापस आने देने का अनुरोध किया.

इसी तरह से महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने राजस्था्न से अपने लोगों के लिए सेफ पैसेज की मांग की है. वहीं, छत्तीसगढ़ ने कोटा में फंसे 1500 लोगों को वापस बुला भेजा है. जम्मू-कश्मीर ने भी देश के तमाम राज्यों में फंसे अपने लोगों को वापस बुलाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

जाहिर है, राज्य सरकारों की ओर से अपने नागरिकों को वापस बुलाए जाने की जल्दबाजी 3 मई को खत्म होने वाले लॉकडाउन को लेकर मन में संशय पैदा कर रही है. सवाल यह है कि क्या राज्य सरकारे दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को इसलिए वापस बुला रही हैं, ताकि लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जा सके.

क्या राज्य सरकारे लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से खोलने की योजना बना रही हैं. क्या राज्य सरकारों को डर है कि बिना अपने नागरिकों को वापस बुलाए लॉकडाउन की मियाद बढ़ाने से देश में संकट खड़ा हो सकता है.

सवाल कई हैं. सबका निचोड़ यही कि लॉकडाउन एक बार फिर बढ़ने के संभावनाएं प्रबल हैं और इस बार ये जून तक बढ़ सकता है.

 

loading...

Check Also

क्या 7 दिन बाद MP में हो जाएगा अंधेरा ! रोजाना 68 हजार मीट्रिक टन खपत, सतपुड़ा पावर प्लांट के पास 7 दिन का स्टॉक

मध्य प्रदेश में कोयले का संकट गहराने लगा है. बात करें बैतूल के सतपुड़ा पावर ...