Tuesday , May 18 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / लखनऊ में कोविड मरीजों के चयनित 17 अस्पतालों का हाल बेहाल, अब लगाये गए नोडल अधिकारी

लखनऊ में कोविड मरीजों के चयनित 17 अस्पतालों का हाल बेहाल, अब लगाये गए नोडल अधिकारी


लखनऊ। लखनऊ में कोविड मरीजों के लिए चयनित किए गए 17 अस्पतालों में बेड से ज्यादा मरीजों के पहुंचने के बाद हाल बेहाल हो गया है। अस्पतालों की तरफ से नए कोविड मरीजों को लेने से इनकार किया जा रहा है। इसके बाद आज सभी 17 अस्पतालों के लिए नोडल अधिकारियों का चयन कर उन्हें ड्यूटी पर लगा दिया गया है।

लखनऊ के 17 अस्पतालों में पीजीआई के लिए उप जिलाधिकारी विकास कुमार सिंह, केजीएमयू के लिए अपर नगर मजिस्ट्रेट संतोष कुमार सिंह, डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के लिए अपर नगर मजिस्ट्रेट पल्लवी मिश्रा, इंटीग्रल यूनिवर्सिटी के अस्पताल के लिए उप जिलाधिकारी डॉ सुधीर सिंह, टीएसएम मेडिकल कॉलेज के लिए अपर नगर मजिस्ट्रेट देवेंद्र कुमार, एरा मेडिकल कॉलेज के लिए उप जिलाधिकारी प्रफुल्ल त्रिपाठी, कैरियर इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज के लिए अपर नगर मजिस्ट्रेट शैलेंद्र कुमार सिंह, विवेकानंद हॉस्पिटल के लिए अपर नगर मजिस्ट्रेट नवीन कुमार, सहारा हॉस्पिटल के लिए विशेष कार्याधिकारी राजस्व परिषद अपूर्वा यादव, चरक हॉस्पिटल के लिए अपर जिलाधिकारी पप्पू गुप्ता, मेदांता हॉस्पिटल के लिए नायब तहसीलदार अमित कुमार, अपोलो मेडिकल हॉस्पिटल के लिए डीसी मनरेगा महेंद्र कुमार पांडे, चंदन हॉस्पिटल के लिए जिला विकास अधिकारी डीके दोहरे, चंद्रिका हॉस्पिटल के लिए तहसीलदार विवेकानंद मिश्रा, ओपी चौधरी हॉस्पिटल के लिए तहसीलदार मीनाक्षी द्विवेदी, मेउ हॉस्पिटल के लिए अपर उप जिलाधिकारी इंद्रसेन और विद्या हॉस्पिटल के लिए तहसीलदार अरुणिमा श्रीवास्तव को लगाया गया है। साथ ही में जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने आज पांच नए निजी अस्पतालों की काउंसलिंग की है। जिसे भी बहुत जल्द 17 अस्पतालों की सूची में जोड़ा जा सकता है।

loading...
loading...

Check Also

कांग्रेस MLA की गर्लफ्रेंड की खुदकुशी: जल्द शादी करने वाले थे उमंग सिंघार, इंटरनेट पर हुई थी मुलाकात

भोपाल. मध्यप्रदेश के पूर्व वन मंत्री और गंधवानी से कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार की मुश्किलें बढ़ ...