Saturday , November 27 2021
Home / ऑफबीट / लॉकडाउन में किस राज्य में मिल रही कितनी रियायत, सारी जानकारी समेटे है ये खबर

लॉकडाउन में किस राज्य में मिल रही कितनी रियायत, सारी जानकारी समेटे है ये खबर

कोरोना से निपटने के लिए पूरे देश में जारी लॉकडाउन में 20 अप्रैल से कुछ छूट दी गई है। अलग-अलग राज्यों ने गृह मंत्रालय की गाइडलाइन के अनुसार, अपने कुछ जिलों में लॉकडाउन से रियायत दी है। यह छूट केवल उन्हीं जिलों में है जो गैर कंटेनमेंट क्षेत्र यानी जहां कोरोना के एक भी मरीज नही हैं या फिर उनकी संख्या 10 से कम है। केंद्र के अनुसार, राज्यों ने अपने जिलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा है। 10 या इससे अधिक मरीजों वाले जिलों को रेड जोन में रखा गया है जहां लॉकडाउन में कोई रियायत नहीं है। जानिए, आपके राज्य में लॉकडाउन में क्या छूट दी गई है- 

यूपी में कहां कितनी है रियायत?

उत्तर प्रदेश में 19 जिलों को छोड़कर कुछ हद तक कामकाज में छूट दी गई है जिसमें सरकारी दफ्तरों में 33 फीसदी स्टाफ का आना शामिल है। 19 जिलों में 10 से अधिक कोरोना केस होने की वजह से छूट नहीं है। इसमें आगरा, लखनऊ, नोएडा, गाजियाबाद, कानपुर, वाराणसी जैसे जिलों शामिल हैं। इसके अलावा जो हॉटस्पॉट तय किए थे, वह सील ही रहेंगे।

राजस्थान में क्या है लॉकडाउन से छूट?

राजस्थान में कोरोना मुक्त जोन में खेती-बाड़ी से जुड़ी सभी दुकानें शुरू हो गई हैं। इसके अलावा राशन, दूध-पनीर, परचून की दुकानों को भी रियायत है। इंडस्ट्रीज, ईंट भट्टी, विशेष आर्थिक क्षेत्र भी खोल दिए गए हैं।

गुजरात के ग्रामीण इलाकों में छूट

गुजरात के ग्रामीण इलाकों में एग्रीकल्चर, टेक्टाइल, फार्मा, केमिकल्स, पैकेजिंग, फूड प्रोसेसिंग, विशेष आर्थिक क्षेत्र और एक्सपोर्ट ओरिएंटेड यूनिट (ईओयू यूनिट) को लॉकडाउन से छूट दी गई है।

महाराष्ट्र में लॉकडाउन रियायत

महाराष्ट्र में कोरोना मरीज सबसे अधिक हैं। यहां भी गैर-कंटेनमेंट क्षेत्रों में लॉकडाउन में आंशिक छूट दी गई है। इस दौरान बाहरी नगर सीमा क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियां ही जारी रहेंगी।

केरल में मिली अतिरिक्त छूट फिर ली गई वापस

केरल सरकार ने अपने ग्रीन जोन जिलों में कई गतिविधियों की अनुमति दी गई थी लेकिन सोमवार को गृह मंत्रालय के नाराजगी जाहिर करने के बाद बस सेवा और रेस्तरां खुलने की छूट वापस ले ली गई।

इंदौर, भोपाल, उज्जैन में कोई रियायत नहीं

मध्य प्रदेश में भोपाल, इंदौर और उज्जैन कंटेनमेंट जोन होने की वजह से कोई छूट नहीं है। बाकी जिलों में गृह मंत्रालय के गाइडलाइन के अनुसार, कंस्ट्रक्शन और उद्योगों में काम शुरू हो गए हैं।

पश्चिम बंगाल और ओडिशा में रियायत

पश्चिम बंगाल में भी जरूरी सेवाओं के अलावा मिठाई की दुकानों को कुछ समय के लिए खोलने की रियायत दी गई है। इसके अलावा ओडिशा में खुर्दा और भद्रक जिलों को छोड़कर बाकी जगह सीमित छूट दी गई है।

इन राज्यों में कोई छूट नहीं

कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां लॉकडाउन में कोई रियायत नहीं दी गई है। आंध्र प्रदेश, बिहार, झारखंड, मेघालय, मिजोरम, तमिलनाडु और तेलंगाना में लॉकडाउन पहले की तरह की बरकरार रहेगा। तेलंगाना में 7 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा। इसके अलावा दिल्ली में भी 27 अप्रैल तक कोई छूट नहीं है।

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...