Monday , September 20 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / सहारनपुर: 10 साल बाद फिर नितिन बना अली हसन, बोला- सुंदर लड़कियों से शादी का था लालच

सहारनपुर: 10 साल बाद फिर नितिन बना अली हसन, बोला- सुंदर लड़कियों से शादी का था लालच

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में धर्म परिवर्तन का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां 10 साल तक मुस्लिम धर्म में रहने के बाद एक युवक ने फिर से हिन्दू धर्म अपना लिया है। उसे अब अपनी जान का खतरा सता रहा है। इसलिए उसने हिंदू संगठनों के लोगों के साथ एसपी सिटी के पास पहुंचकर अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है।

सहारनपुर में थाना मंडी क्षेत्र के बालाजी घाट निवासी नितिन पंत ने बताया कि उसका जन्म राजस्थान के अलवर में हिन्दू परिवार में हुआ था। वह अलवर में कुछ मुस्लिम लड़कों के संपर्क में आया था। इसके बाद उसने हिन्दू धर्म को छोड़कर मुस्लिम धर्म अपना लिया था। उसने अपना नाम बदलकर अलीहसन रख लिया था। लेकिन अब उसने फिर से हिन्दू धर्म में वापसी कर ली है। उसने धर्म परिवर्तन के मामले की जानकारी एसपी सिटी राजेश कुमार को दे दी है। उनसे कानूनी कार्रवाई के लिए लिखित प्रार्थना पत्र भी दिया है।

सुंदर लड़की से शादी और पैसे का दिया गया लालच
नितिन पंत उर्फ अलीहसन ने बताया कि वह उत्तराखंड के नैनीताल जिले के तल्लीताल इलाके का रहने वाला है। साल 2010 में वह काम की तलाश में राजस्थान के अलवर इलाके के भिवाड़ी गया था। जहां उसे काम तो मिला नहीं, लेकिन कुछ लोग ऐसे मिले जो उसे राजस्थान के मेवात के पंचगावा ले गए। उन्होंने नितिन पंत को जबरन धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाया। उसको सुंदर लड़की से शादी पैसा व घर का लालच दिया।

धर्म परिवर्तन के बाद हिंदू लड़कियों से शादी करने को कहा गया

नितिन पंत का आरोप है कि जब इस्लाम कबूल करने से मना कर दिया तो उसको डराया धमकाया गया। उसके साथ मारपीट की गई। इसके साथ ही उसके घरवालों की हत्या की धमकी भी दी गई। एसपी सिटी राजेश कुमार के दरबार में सुरक्षा की गुहार लगाने पहुंचे नितिन ने यह भी आरोप लगाया कि कुछ मौलवियों ने उसको बंदूक दिखाकर डराया। इसके बाद उसने डर के मारे इस्लाम कबूल लिया। उसका नाम अलीहसन रखा गया। अली हसन बनने के बाद उसने जब धर्म परिवर्तन कराने वाले मौलवी से कहा कि उसकी शादी करा दी जाए तो मौलवी व उसके साथी ने कहा कि वो अन्य हिन्दू लड़कियों को फंसाए उन्हें इस्लाम में दाखिल करवाएं।

नितिन से अलीहसन बने शख्स का कहना है कि उसको कमरे में बन्द रखा जाता था। कई कई दिन भूखा रखा जाता था। धर्म परिवर्तन करवाने वालों ने उसको जबरदस्ती इस्लामिक शिक्षा व तौर तरीकों को सीखने के लिए मुजफ्फरनगर के एक मदरसे में भेजा। उसके बाद उसे सहारनपुर उमाही कोटा गांव के मदरसे में रखा गया। जहां वो कुछ दिन पहले फरार हो गया और सहारनपुर में हिन्दू संगठन से जुड़े निपुण भारद्वाज के पास पहुंचा और फिर से हिन्दू धर्म अपनाने की बात कही।

बजरंग दल ने की कार्रवाई की मांग
वहीं, बजरंग दल हिंदुस्तान के नेता निपुण भारद्वाज का कहना है कि नितिन के साथ बहुत गलत हुआ। नितिन को कुछ जेहादी सोच के लोगों ने जबरन धर्म परिवर्तन करवाया है। निपुण भारद्वाज का कहना है कि ऐसे लोगों पर सरकार को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। निपुण भारद्वाज व बालाजी घाट के संचालक अतुल तुली ने नितिन के जल्द शुद्धिकरण करवा कर वापस धर्म मे शामिल करने का भरोसा दिलाया है।

loading...

Check Also

24 साल की लड़की के पैरों में डाल दीं बेड़ियां, आपके होश उड़ा देगी इसकी वजह

जमशेदपुर : झारखंड के जमशेदपुर में बिष्टुपुर थाना क्षेत्र स्थित एक विशेष समुदाय के पवित्र स्थल ...