Sunday , October 24 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / विश्व पर्यटन दिवस : कुछ दिन तो गुजारो बनारस में, गलियों से भी प्यार हो जाएगा

विश्व पर्यटन दिवस : कुछ दिन तो गुजारो बनारस में, गलियों से भी प्यार हो जाएगा

वाराणसी: घूमना-फिरना, नई जगहों पर जाना यादें बटोरना भला किसको अच्छा नहीं लगता है ? लोग अपने दैनिक रुटीन में चाहे कितना भी व्यस्त क्यों न हों लेकिन वह घूमने के लिए समय जरूर निकाल लेते हैं. आप घूमने जाना चाह रहे हैं और जगह को लेकर उलझन में हैं तो आपको बनारस का रुख एकबार जरूर करना चाहिए. विश्व के ऐतिहासिक शहरों में शुमार बनारस राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों के लिए पर्यटन का एक बहुत बड़ा स्थल है. यहां की संकरी गलियां और गलियों में छोटे-छोटे मंदिर कई वर्षों के इतिहास को संजोकर रखे हैं.

लगभग 300 वर्ष से पुरानी परंपराओं का निर्वहन आज भी काशी में होता है. 27 सितंबर को विश्व पर्यटक दिवस के रूप में मनाया जाता है इसके लिए बनारस में विभिन्न प्रकार के आयोजन किए जाएंगे. वैश्विक महामारी के बाद एक बार फिर पर्यटकों को लुभाने के लिए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं. बीएचयू टूरिज्म डिपार्टमेंट के असिस्टेंट प्रोफेसर प्रवीण राणा ने बताया कि हर बार एक विशेष थीम के साथ मनाया जाता है. इस वर्ष का थीम दिया है. टूरिज्म ग्रोथ एंड इंक्लूसिव ग्रोथ इसका अर्थ है सबको मिलाकर के हम लोग विकास करें हर वर्ग को पर्यटन से जोड़कर विकास करें.

असिस्टेंट प्रोफेसर ने बताया कि बनारस टूरिज्म की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्णं है. विश्व पर्यटन दिवस यहां पर बहुत ही हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है. पिछले वर्ष कोविड-19 की वजह से फिजिकल रूप से नहीं मनाया गया लेकिन इस बार भी कोविड-19 प्रोटोकॉल पालन करते हुए भव्य रूप से मनाने जा रहे हैं. बनारस में भारत पर्यटन, उत्तर प्रदेश पर्यटन, वाराणसी पर्यटन, टूरिज्म एसोसिएशन और बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी के बच्चे अध्यापकों के साथ विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम करेंगे. विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर पर्यटन के शहर काशी में सुबह 7 बजे ताज होटल से टूरिज्म रन शेष का शुभारंभ होगा. जिसमें बनारस का नदेसर क्षेत्र जो टूरिज्म हब माना जाता है, वहां पर व्यापारियों को और अन्य लोगों को टूरिज्म के प्रति जागरूक करेंगे. इसी के साथ विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजन किए गए जिसमें बीएचयू के बच्चे भी हिस्सा ले रहे हैं.

गंगा के घाट.

विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर वाराणसी के जो प्रसिद्ध लोग हैं जिन्होंने पर्यटन पर कार्य किया, उनको भी सम्मानित किया जाएगा. डॉ. प्रवीण राणा ने बताया कि वैश्विक महामारी के दौर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कुछ स्कूलों में क्विज प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा उसमें जो छात्र प्रथम आएंगे उनको पुरस्कार भी दिया जाएगा.

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...