Saturday , November 27 2021
Home / ऑफबीट / वीडियो : लाइव TV पर इमरान के साथ मौलाना की रोते हुए दुआ- हमारे पास न दवा न डॉक्टर, आ जा मेरे मौला

वीडियो : लाइव TV पर इमरान के साथ मौलाना की रोते हुए दुआ- हमारे पास न दवा न डॉक्टर, आ जा मेरे मौला

पूरी दुनिया कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज खोजने में लगी है। लेकिन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान अपने देश को दुआ के ​जरिए कोरोना से मुक्ति दिलाना चाहते हैं। इसके लिए तबलीगी जमात के एक मौलाना ने लाइव शो के दौरान बकायदा रोते हुए दुआ पढ़ी। उसके साथ पाकिस्तानी भी रो रहे थे।

गुरुवार (अप्रैल 23, 2020) को पीएम की एहसास टेलीथॉन के समापन पर मौलाना तारिक जमील ने दुआ पढ़ी। इस दौरान मौलाना ने पाकिस्तान से कोरोना संकट को पाकिस्तान से हटाने के लिए दुआ माँगी। मौलाना के साथ-साथ प्रधानमंत्री इमरान खान और मौजूदा सभी लोगों ने दुआ माँगी।

पाकिस्तान को कोरोना से मुक्ति दिलाने के लिए मौलाना तारिक जमील रोते हुए कहते हैं,”हमारे मुसीबत हटा दे अल्लाह। हमारे पास कुछ नहीं है, न दवा है, न अस्पताल है, न डॉक्टर है। कुछ भी नहीं है हमारे पास, एक सिर्फ तू ही है। आ जा मेरे मौला। सारी दुनिया इससे परेशान हो गई है। अब तो आ जा। अल्लाह तेरे आने से काम बन जाएगा। इसे हटा दे अल्लाह। या अल्लाह जिन चीजों से तू नाराज होता है, हम उससे तौबा करते हैं। मैं 22 करोड़ आवाम की तरफ से तेरे से तौबा करता हूँ।”

मौलाना आगे कहते हैं, “तूने मुझे अपना नुमाइंदा बनाया। मेरे साथ हजारों लोग रो रहे होंगे। मेरे आँसू तो टीवी पर नजर आ रहे होंगे, लेकिन अल्लाह जो बच्चे-बच्चियाँ, बूढे-जवान घरों में बैठे रो रहे हैं, उनके आँसू तो पाकीज हैं। या मौला अपने फकीरों की तो सुन, उन नेक बंदों की तो सुन जो रातों को तुझे याद करते हैं, जिनके दामन गुनाहों से साफ हैं। ऐसे बंदों से हमारा देश भरा हुआ है, खाली नहीं है।”

मौलाना तारिक दुआ पढ़ते हुए कहते हैं, “या अल्लाह, तू हमें माफ कर इस आफत को टाल दे। इसका इलाज हमें दे दे। इसे हटा दे। हम पर रहम कर मेरे अल्लाह। या अल्लाह लॉकडाउन में भी एक कमरे में 10-10 लोग बैठे हैं। लॉकडाउन का क्या फायदा। इस आफत को तू ही दूर करेगा अल्लाह। ये लॉकडाउन से नहीं जाएगा।”

फिर वो कहते हैं, “मेरे मौला जैसे बच्चा अपनी माँ के सामने रो-रोकर कहता है कि मैं रो-रोकर थक गया, अब तो मान जा। मेरे मालिक मैं भी रो-रोकर थक गया हूँ। मान जा यार। हमारे पास कुछ भी नहीं है। या अल्लाह पूरी दुनिया से इस आफत को हटा दे। गैर मुस्लिमों को भी इससे निजात फरमा। वो भी तेरे बंदे हैं। तूने उसे बनाया है।”

बता दें कि इस प्रोग्राम में पीएम इमरान खान के साथ कासिफ अब्बासी, कामरान खान और मुनीबा मिजारी आदि भी मौजूद थे।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस से पूरी दुनिया तबाह है और जिसे भी जरा सा भी इसके लक्षण दिख रहे हैं, उसे तुरंत अस्पताल में चेकअप कराने की सलाह दी गई है। मगर पिछले दिनों पाकिस्तान में इसका उलटा देखने को मिला। वहाँ के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान का कहना था कि जिसे भी कोरोना वायरस हो, वो अपने घर में ही रहे और बाहर न निकले।

लोगों का पूछना था कि अगर ऐसा तो फिर मरीज अपना इलाज कैसे कराएँगे? इमरान ख़ान ने अपने लोगों को न घबराने की सलाह देते हुए चेताया था कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकना असंभव है। इसके साथ ही उन्होंने लॉकडाउन को लागू करने से मना करते हुए कहा था कि हम अमेरिका जितने अमीर नहीं है, लेकिन हमारे पास इस्लाम है। आज एक बार फिर से उनका ये रवैया जाहिर हो रहा है।

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...