Sunday , August 1 2021
Breaking News
Home / क्रिकेट / शेफाली की तारीफ में बिछ गया ब्रिटिश मीडिया, कहा- जल्द ही भारत को बनाएंगी टी-20 चैंपियन

शेफाली की तारीफ में बिछ गया ब्रिटिश मीडिया, कहा- जल्द ही भारत को बनाएंगी टी-20 चैंपियन

ब्रिटिश मीडिया ने भारतीय महिला टीम की 17 साल की ओपनर शेफाली वर्मा की तारीफ की है। द गार्जियन, द टाइम्स, BBC और मेल ऑनलाइन समेत कई अखबारों ने शेफाली को दुनिया की बेहतरीन महिला क्रिकेटर बताया है। गार्जियन ने कहा है कि इस युवा खिलाड़ी ने भारतीय महिला क्रिकेटरों को सक्सेस मंत्र सिखाया और जीत के रास्ते पर पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में शेफाली टीम इंडिया को टी-20 चैंपियन बनाएंगी।

शेफाली ने तीनों फॉर्मेट में रिकॉर्ड की झड़ी लगाई
शेफाली ने टी-20, वनडे और टेस्ट तीनों फॉर्मेट में रिकॉर्ड की झड़ी लगा दी है। वे डेब्यू टेस्ट में सबसे बड़ी पारी खेलने वाली भारतीय बल्लेबाज हैं। इसके साथ ही वे इंग्लैंड के खिलाफ इसी महीने वनडे में डेब्यू करने के बाद क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे और टी-20) में डेब्यू करने वाली सबसे कम उम्र की खिलाड़ी बन गईं।

बीबीसी, द डेली मेल ने भी की तारीफ
शेफाली ने इंग्लैंड के खिलाफ इकलौते टेस्ट की दोनों पारियों में 96 रन और 63 रन की पारी खेली थी। द टाइम्स ने कहा है कि शेफाली की पारी की वजह से ही टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ जल्दी विकेट गिरने के बाद भी फाइट बैक कर सकी।

द डेली मेल ने लिखा कि शेफाली के मास्टरक्लास के सामने इंग्लैंड की टीम हार से बच गई। शेफाली एकमात्र टेस्ट की सीरीज में सबसे ज्यादा 159 रन बनाने वाली बल्लेबाज थीं। बीबीसी ने लिखा कि यह लड़की एक शानदार क्रिकेटर है।

शेफाली के नाम यह रिकॉर्ड

  • शेफाली ने इंटरनेशनल डेब्यु साउथ अफ्रीका के खिलाफ 24 सितंबर 2019 को हुए टी-20 में किया था। वे भारत के लिए टी-20 मैच खेलने वाली सबसे युवा खिलाड़ी (महिला/पुरुष) हैं।
  • उन्होंने 2019 में ही वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 मैच में फिफ्टी लगाई थी। वे इंटरनेशनल क्रिकेट में फिफ्टी लगाने वाली सबसे युवा भारतीय क्रिकेटर (महिला/पुरुष) बन गईं। इस मामले में उन्होंने सचिन तेंदुलकर का 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा।
  • शेफाली ने 15 साल 285 दिन की उम्र में फिफ्टी लगाई थी। जबकि सचिन ने पहली फिफ्टी 16 साल 214 दिन की उम्र में लगाई थी।
  • टीम इंडिया 2020 टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची थी। 16 साल 40 दिन की उम्र में शेफाली भी इस टीम का हिस्सा थीं। वे टी-20 और वनडे फॉर्मेट में वर्ल्ड कप फाइनल खेलने वाली सबसे युवा (महिला और पुरुष) खिलाड़ी बनीं। वर्ल्ड कप में शेफाली भारत की टॉप स्कोरर रही थीं।
  • शेफाली ने 2020 में टी-20 बैटिंग रैंकिंग में नंबर-1 बनने वाली दुनिया की सबसे युवा खिलाड़ी बनीं थीं। उन्होंने 16 साल की उम्र में यह रैंकिंग हासिल की थी।
  • शेफाली ने पिछले महीने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। वे डेब्यू मैच में सबसे बड़ी पारी खेलने वाली भारतीय बल्लेबाज बनीं। शेफाली डेब्यू टेस्ट की पहली पारी में 96 रन बनाकर आउट हुईं।
  • इससे पहले भारत के लिए डेब्यू टेस्ट में सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड चंद्रकांता कॉल (75 रन) के नाम था। जो उन्होंने फरवरी 1995 में न्यूजीलैंड के खिलाफ नेल्सन में बनाया था।
  • डेब्यू टेस्ट में शेफाली ने पार्टनर स्मृति मंधाना के साथ मिलकर 37 साल पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ डाला। शेफाली ने मंधाना के साथ ओपनिंग विकेट के लिए 167 रन की पार्टनरशिप की। यह भारत के लिए ओपनिंग विकेट के लिए सबसे बड़ी पार्टनरशिप है।
  • इससे पहले यह रिकॉर्ड गार्गी बनर्जी और संध्या अग्रवाल के नाम था। इन दोनों ने 1984 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुंबई में 153 रन की साझेदारी की थी।
  • शेफाली और स्मृति की पार्टनरशिप भारत के किसी भी विकेट के लिए दूसरी सबसे बड़ी पार्टनरशिप है। सबसे बड़ी पार्टनरशिप का रिकॉर्ड थिरुष कामिनी और पूनम राउत के नाम है। इन दोनों ने नवंबर 2014 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ मैसूर में दूसरे विकेट के लिए 275 रन की पार्टनरशिप की थी।
  • शेफाली और स्मृति के बीच 167 रन की पार्टनरशिप अवे या न्यूट्रल ग्राउंड पर किसी भी टीम की ओर से सेकेंड हाईएस्ट ओपनिंग पार्टनरशिप भी है।
  • शेफाली ने अपनी 96 रनों की पारी में 152 बॉल खेले। इसमें उन्होंने 13 चौके और 2 छक्के लगाए। वुमन्स टेस्ट क्रिकेट में सिर्फ 3 ही खिलाड़ियों ने अपनी पारी में 2 छक्के लगाए हैं। इसमें शेफाली के अलावा ऑस्ट्रेलिया की एलिसा हीली (2017 में) और इंग्लैंड की लॉरेन विनफील्ड हिल (2021) शामिल हैं।
  • शेफाली टेस्ट डेब्यू में फिफ्टी लगाने वाली भारत की 9वीं प्लेयर हैं। वे सबसे आखिरी भी हैं। इससे पहले शेफाली ने 2014 में और स्मृति मंधाना ने इंग्लैंड के खिलाफ वॉर्म्सले में टेस्ट डेब्यू में फिफ्टी लगाई थी।
  • शेफाली ओवरऑल टेस्ट डेब्यू पर फिफ्टी लगाने वाली दूसरे सबसे युवा खिलाड़ी हैं। फिफ्टी लगाते वक्त उनकी उम्र 17 साल 140 दिन रही। यह रिकॉर्ड साउथ अफ्रीका की जोहमारी लॉग्तेनबर्ग के नाम है। उन्होंने 2003 में 14 साल 166 दिन की उम्र में इंग्लैंड के खिलाफ शेनली में 74 रन की पारी खेली थी।
  • शेफाली ओवरऑल वुमन्स टेस्ट में फिफ्टी लगाने वाली चौथी सबसे युवा खिलाड़ी हैं।
  • 27 जून को इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में उतरते ही शेफाली ने इतिहास रच दिया। 17 साल और 150 दिन की उम्र में वे क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्ट, वनडे और टी-20) में डेब्यू करने वाली सबसे कम उम्र की खिलाड़ी बन गईं।
  • इस मामले में शेफाली ओवरऑल (महिला-पुरुष) क्रिकेटर्स में दुनिया की 5वीं प्लेयर हैं। यह उपलब्धि उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिस्टल वनडे में हासिल की।
  • 17 साल और 86 दिन की उम्र में डेब्यू के साथ इंग्लैंड की साराह टेलर दूसरे नंबर पर काबिज हैं। उनके बाद तीसरे नबंर पर ऑस्ट्रेलिया की एलिसे पैरी (17 साल 104 दिन) और चौथे नंबर पर पाकिस्तान के मोहम्मद आमिर (17 साल 108 दिन) हैं।
loading...

Check Also

उत्तराखंड में भी कल से खुलेंगे स्कूल, पैरेंट्स पढ़ लें गाइडलाइंस

देहरादून :  कोरोना महामारी के चलते स्कूल काफी समय से बंद हैं। अब राज्य सरकार ...