Tuesday , November 30 2021
Home / ऑफबीट / सबमें है अच्छाई : कोरोना से मुक्त हुए 129 तबलीगी, प्लाज्मा देने की इच्छा जताई

सबमें है अच्छाई : कोरोना से मुक्त हुए 129 तबलीगी, प्लाज्मा देने की इच्छा जताई

इलाज करवाकर ठीक हुए तबलीगी जमात के लोगों के बीच से एक अच्छी खबर आई है। कोरोना वायरस के संभव इलाज के लिए इन लोगों ने भी अपना प्लाज्मा देने की इच्छा जताई है। दरअसल, झज्जर के एम्स में 142 तबलीगी जमात के लोगों को भर्ती किया गया था। इनमें से 129 तबलीगी जमात के लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं। इनमें से कई ने प्लाज्मा थेरपी के लिए अपना प्लाज्मा देने को रजामंदी दी है। दिल्ली सरकार पहले ही ठीक हुए लोगों के प्लाज्मा डोनेट करने की अपील कर चुकी है। यह जानकारी डॉक्टर सुषमा भटनागर ने दी।

डॉक्टर सुषमा झज्जर हॉस्पिटल में कोरोना सर्विस की चेयरपर्सन हैं। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘हमने ठीक हुए कुछ मरीजों से उनका खून डोनेट करने की अपील की थी और वे मान गए। अब हम इसकी तैयारी में जुटे हैं।’ उन्होंने बताया कि तबलीगी जमात के लोग भी ब्लड सैंपल देने को तैयार हैं।

डॉक्टर सुषमा ने बताया कि वहां ज्यादातर जमात वाले दिल्ली से बाहर के हैं। कुछ विदेशी भी हैं। फिलहाल वे लॉकडाउन की वजह से घर तो नहीं जा सकते। ऐसे में अथॉरिटी उन्हें कहीं शिफ्ट करेगी, जिससे बाद में उन्हें प्लाज्मा डोनेशन के लिए बुलाया जा सके।

इसी तरह दिल्ली के लोक नायक हॉस्पिटल में तबलीगी जमात के लोग भी ब्लड सैंपल देने को तैयार हैं। हॉस्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर डॉक्टर जे सी पासी के मुताबिक, करीब 20 प्रतिशत प्लाज्मा देने को तैयार हैं।

बता दें कि दिल्ली में कोरोना के 4 सीरियस मरीजों पर प्लाज्मा थेरपी ट्राई की गई थी। इससे दो की हालत में काफी सुधार है। दिल्ली सरकार ने एलएनजेपी अस्पताल में गंभीर मरीजों पर प्लाज्मा थेरेपी शुरू की है और मरीज रिकवर हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कोरोना को मात देने वाले सभी लोगों से अपील की है कि वे दूसरे लोगों की जान बचाने के लिए आगे आएं। प्लाज्मा केवल उन्हीं को दिया जा रहा है, जो बहुत सीरियस मरीज हैं। अगर ऐसे लोगों को प्लाज्मा ना दें तो उनकी मौत भी हो सकती है।

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...