Sunday , May 16 2021
Breaking News
Home / खबर / मदद मांगने आए मरीज के परिजन से बोले मोदी के मंत्री- बालाजी को नारियल चढ़ाओ, सब ठीक हो जाएगा

मदद मांगने आए मरीज के परिजन से बोले मोदी के मंत्री- बालाजी को नारियल चढ़ाओ, सब ठीक हो जाएगा

जोधपुर > जोधपुर के सांसद और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री सोमवार को शहर के अस्पतालों में व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे। एमडीएम अस्पताल में एक मरीज के परिजन उनसे मदद मांगने पहुंच गए। दो महिलाओं को सांत्वना देते हुए शेखावत ने कहा कि डॉक्टर अपना काम कर रहे हैं। आप बालाजी महाराज को नारियल चढ़ा देना। बालाजी महाराज ठीक कर देंगे। भगवान सब ठीक कर देंगे। इसके बाद वे आगे बढ़ गए।

दरअसल, जोधपुर में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो चुका है। संक्रमितों की संख्या रोजाना नए रिकॉर्ड बना रही है। अस्पतालों में लगातार बेड्स की संख्या बढ़ाने के बावजूद सभी पूरी क्षमता से भरे हुए हैं। ऐसे में केंद्रीय मंत्री शेखावत व्यवस्थाओं का जायजा लेने व हालात पर डॉक्टरों से चर्चा करने सबसे पहले जोधपुर एम्स पहुंचे। एम्स के निदेशक डॉ. संजीव मिश्रा से लंबी चर्चा के बाद वे एमडीएम अस्पताल पहुंचे। यहां उन्होंने डॉक्टरों के साथ उपलब्ध सुविधाओं व मरीजों की बढ़ती संख्या पर बात की।

अस्पताल से बाहर निकलते समय वहां भर्ती एक मरीज के घर को दो महिलाओं ने शेखावत को रोक लिया। बिलखते हुए महिलाओं ने अपनी पीड़ा शेखावत को सुनाई। शेखावत ने उनके कंधों पर हाथ रख बेहद शालीनता से उनकी बात सुनी और मदद का आश्वासन दिया। इसके बाद महिलाओं के कुछ और कहने पर उन्होंने कहा कि भगवान पर भरोसा रखें। वे सब ठीक करेंगे। डॉक्टर पूरा प्रयास कर रहे हैं कि किसी मरीज को दिक्कत न हो। आप बालाजी महाराज को नारियल चढ़ा देना। बालाजी महाराज ठीक कर देंगे। इतना कहकर वे आगे बढ़ गए।

रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की शिकायतें मिल रहीं
शेखावत ने कहा कि आपदा बहुत बड़ी है। हम सभी को बहुत ध्यान रखने की आवश्यकता है। प्रशासन अपनी पूरी क्षमता के साथ काम कर रहा है। हम सभी को मिलकर इससे निपटना होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमितों के लिए एम्स में 160 बेड थे। हमने इसे बढ़ाकर 250 करने को कहा, लेकिन उन्होंने 290 बेड उपलब्ध करवा दिए।

वहीं, महात्मा गांधी अस्पताल में डॉक्टरों के साथ बैठक में शेखावत ने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की शिकायतें मिल रही हैं। जिसके नाम से इंजेक्शन दिया जा रहा है वह किसी और के लगाया जा रहा है। ऐसे में सीएमएचओ पूरी निगरानी रखें कि जिस मरीज के नाम से इंजेक्शन जारी किया गया है वह उसी को लगे।

loading...
loading...

Check Also

हिसार में हंगामा: कोविड अस्‍पताल का फीता काटने पहुंचे CM खट्टर का विरोध किए किसान, DSP को पीटा

हिसार में रविवार को 500 बिस्तर की क्षमता वाले अस्थायी कोविड अस्पताल का उद्घाटन करने ...