Wednesday , October 20 2021
Breaking News
Home / खबर / विकास का हाल : गैराज में काम कर रहे राष्ट्रीय खिलाड़ी, सरकार ने कुछ नहीं किया

विकास का हाल : गैराज में काम कर रहे राष्ट्रीय खिलाड़ी, सरकार ने कुछ नहीं किया

झारखंड में खेल की स्पष्ट नीति नहीं होने से खिलाड़ी आर्थिक तंगी झेल रहे हैं। जमशेदपुर के राष्ट्रीय हैंडबॉल खिलाड़ी विकास कुमार गैराज में काम करने को मजबूर हैं। जूनियर स्तर का यह खिलाड़ी चार बार राज्य का प्रतिनिधित्व कर भारतीय हैंडबॉल फेडरेशन द्वारा आयोजित टूर्नामेंटों में हिस्सा ले चुका है। सीबीएसई स्कूल नेशनल में भी विद्यालय का प्रतिनिधित्व किया है। बावजूद पैसे की तंगी झेल रहा है।

विकास ने कहा- मेरे पिता गुजर चुके हैं, मां बीमार है, बिस्तर पर ही रहती है। बड़ी बहन की जिम्मेवारी भी मेरे पर है। ऐसे में मैं खेलों को आगे जारी रखने में कैसे सक्षम हो सकता हूं। यही कारण है कि मैं आदित्यपुर पुल के पास गैराज में 10-12 घंटे तक काम करता हूं। इसी पैसे मिलते से परिवार का गुजारा होता है। हालत इतनी खराब है कि मेरे पास फोन तक नहीं है। शास्त्रीनगर में एक रूम के मकान में मैं बहन-मां के साथ रहता हूं। तत्कालीन डीसी रवि शंकर शुक्ला ने विकास को मदद का आश्वासन दिया था। राशन कार्ड व मां के लिए वृद्धा पेंशन की व्यवस्था करने की बात कही थी। लेकिन उनका स्थानांतरण हो गया व सब कुछ ठंडे बस्ते में चला गया।

खेल को देख आरएमएस में हुआ दाखिला

विकास बेहतरीन खिलाड़ी व अनुशासित है। खेल को देख उसका सोनारी के आरएमएस स्कूल में नामांकन हुआ। स्कूल ने उसकी फीस माफ की। लेकिन वो आर्थिक रूप से इतना कमजोर है कि नियमित रूप से स्कूल नहीं आ पाता है।

-राहुल गुप्ता, कोच-इंटरनेशनल हैंडबाॅल खिलाड़ी

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...