Thursday , October 28 2021
Breaking News
Home / खबर / MP में लगेगा ‘बिजली’ का जोरदार झटका, सर्विस चार्ज 70% तक बढ़ेगा

MP में लगेगा ‘बिजली’ का जोरदार झटका, सर्विस चार्ज 70% तक बढ़ेगा

भोपाल. कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बीच प्रदेश के बिजली उपभोक्ताओं को तगड़ा झटका देने की तैयारी है। सभी तरह के शुल्क बढ़ाने की तैयारी है। मध्य प्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने मीटर टेस्टिंग चार्ज, लोड बढ़ाने से लेकर नए कनेक्शन के शुल्क में 67 से 70% वृद्धि का प्रस्ताव रखा है। आयोग ने इसका ड्राफ्ट जारी कर दिया है। उपभोक्ताओं से सुझाव, दावे और आपत्तियों पर सुनवाई के बाद सर्विस चार्ज में संशोधन लागू किए जाएंगे। बड़ी बात है कि आयोग ने प्रदेश के हिंदी अखबारों में इसकी सूचना तो दी है, लेकिन वह अंग्रेजी में है। उपभोक्ताओं से पांच जुलाई 2021 तक आपत्ति/ सुझाव मांगे गए हैं। इस पर जनसुनवाई की औपचारिकता 6 जुलाई को पूरी की जाएगी। इसने सवाल खड़ा कर दिया है कि हिंदी भाषा प्रदेश में विज्ञापन अंग्रेजी में क्यों, जबकि यह हर वर्ग से जुड़ा मामला है।

प्रदेश में लगभग 1.59 करोड़ बिजली उपभोक्ता हैं। इसमें एक करोड़ घरेलू उपभोक्ता सस्ती (100 यूनिट पर 100 रुपए) बिजली योजना का लाभ पा रहे हैं। इसमें 28 लाख के लगभग कृषि उपभोक्ता हैं। शेष व्यावसायिक और औद्योगिक उपभोक्ता हैं। बड़ी संख्या में उपभोक्ता बिजली बिल का भुगतान चेक के माध्यम से भी करते हैं। अब चेक बाउंस हुआ तो घरेलू उपभोक्ताओं को 250 रुपए और व्यावसायिक उपभोक्ताओं को 1600 रुपए के लगभग देने होंगे।

घरेलू उपभोक्ताओं को मीटर टेस्टिंग कराने के लिए 80 रुपए देने होंगे। पहले यह काम 50 रुपए में हो जाता था। सिंगल फ्रीस 3 केवीए लोड के कनेक्शन के आवेदन के लिए लगने वाला शुल्क 600 रुपए से बढ़ाकर 1020 रुपए करने का प्रस्ताव है।

इसी तरह मीटर की जांच करानी हो, या कनेक्शन में नाम परिर्वतन कराना हो, भार बढ़ाने से लेकर सभी तरह के शुल्क और सर्विस चार्ज में बढ़ोतरी की तैयारी है। मप्र ऊर्जा नियामक आयोग ने इस तरह का प्रस्ताव तैयार किया है। शुल्कों में यह संशोधन 12 साल बाद होने जा रहा है।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...