साइकिल चलाने का सही समय: जानें रोजाना साइकिल चलाने के फायदे; कितने लोगों को परहेज करना चाहिए

दिल्ली: आधुनिक समय में स्वस्थ रहना किसी चुनौती से कम नहीं है. इसके लिए संतुलित आहार और दैनिक व्यायाम की आवश्यकता होती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक नियमित व्यायाम से कई बीमारियों का खतरा कम होता है। व्यायाम, विशेष रूप से मोटापा, तनाव, मधुमेह और हृदय रोग के लिए, शीघ्र राहत प्रदान करता है। इसके लिए रोजाना व्यायाम और योग करें। अगर आपके पास समय नहीं है तो आप रोजाना साइकिल चलाकर स्वस्थ रह सकते हैं। यह स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करता है।

आइए जानें रोजाना साइकिल चलाने के क्या फायदे हैं और किन लोगों को साइकिल चलाने से बचना चाहिए…

शोध से पता चला है कि एक सामान्य व्यक्ति को व्यायाम के जरिए एक हफ्ते में 2000 कैलोरी बर्न करनी चाहिए। इसके अलावा रोजाना एक घंटे साइकिल चलाने से हफ्ते में 1200 कैलोरी बर्न हो सकती है। ब्रिटिश शोध में यह भी सामने आया है कि दिन में आधा घंटा साइकिल चलाने से साल में 5 किलो वजन कम किया जा सकता है। इसके लिए आप बढ़ते वजन को नियंत्रित करने के लिए साइकिलिंग का सहारा ले सकते हैं। यह चयापचय के स्तर में भी सुधार करता है। सीधे शब्दों में कहें, यह चयापचय को गति देता है।

वाईएमसीए की एक स्टडी के मुताबिक रोजाना व्यायाम करने वाले लोग आलसी लोगों की तुलना में 32 फीसदी बड़े होते हैं। खासकर मानसिक तनाव वाले व्यक्ति का स्वास्थ्य काफी प्रभावित होता है। वहीं साइकिल चलाने से तनाव, अवसाद और चिंता से मुक्ति मिलती है।

एक अन्य अध्ययन में पाया गया कि साइकिल चलाने से आंत्र कैंसर का खतरा कम होता है। कई अध्ययनों से यह भी पता चला है कि रोजाना साइकिल चलाने से स्तन कैंसर का खतरा कम होता है। वहीं, हृदय रोगों से पीड़ित लोगों के लिए साइकिल चलाना फायदेमंद होता है।

कितने लोगों को जीवित रहना चाहिए

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार अस्थमा और घुटने के दर्द वाले लोगों को साइकिल चलाने से बचना चाहिए। साथ ही रोज सुबह साइकिल चलाना फायदेमंद होता है।