Sunday , September 26 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / स्टूडेंट्स के लिए जरूरी खबर : यूपी में B.Ed की काउंसलिंग 17 सितंबर से, इन बातों का रखना होगा विशेष ध्यान
Students after NDA Exam over at Post Graduate Government College for Girls in Sector 11 of Chandigarh on Sunday, September 18 2016. Express Photo by Sahil Walia *** Local Caption *** Students after NDA Exam over at Post Graduate Government College for Girls in Sector 11 of Chandigarh on Sunday, September 18 2016. Express Photo by Sahil Walia

स्टूडेंट्स के लिए जरूरी खबर : यूपी में B.Ed की काउंसलिंग 17 सितंबर से, इन बातों का रखना होगा विशेष ध्यान

 

उत्तर प्रदेश के बीएड कॉलेजों में दाखिले के लिए काउंसलिंग की प्रक्रिया 17 सितंबर से शुरू होगी. लखनऊ विश्वविद्यालय की ओर से बुधवार शाम को काउंसलिंग का संभावित कार्यक्रम जारी कर दिया गया है. बीएड प्रवेश की राज्य समन्वयक प्रोफेसर अमीता वाजपेई ने बताया कि 21 सितंबर से अभ्यर्थियों को काउंसलिंग में विकल्प भरने का मौका मिलेगा.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बीएड कॉलेजों में दाखिले के लिए काउंसलिंग की प्रक्रिया 17 सितंबर से शुरू होगी. लखनऊ विश्वविद्यालय की ओर से बुधवार शाम को काउंसलिंग का संभावित कार्यक्रम जारी कर दिया गया है. बीएड प्रवेश की राज्य समन्वयक प्रोफेसर अमिता वाजपेई ने बताया कि 21 सितंबर से अभ्यर्थियों को काउंसलिंग में विकल्प भरने का मौका मिलेगा. कुल 4 चरणों की काउंसलिंग के आधार पर प्रवेश लिए जाएंगे. पहले दो चरणों में केंद्रीकृत काउंसलिंग होगी. तीसरे चरण में कॉलेज द्वारा सीधे दाखिले लिए जाएंगे. चौथे चरण में दाखिले का विकल्प अल्पसंख्यक संस्थानों के पास होगा.

संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड 2021-23 के स्टेट रैंक-धारक अभ्यर्थी, लखनऊ विश्वविद्यालय की वेबसाईट www.lkouniv.ac.in पर लॉगिन करके (जहां से अभ्यर्थियों ने अपना ऑनलाइन आवेदन पत्र भरा था), काउन्सिलिंग के लिए अपना ऑनलाइन पंजीकरण कराकर काउन्सिलिंग शुल्क व अग्रिम शुल्क जमा कर वांछित विश्वविद्यालय/महाविद्यालय चुन सकते हैं.

इन बातों का रखना होगा विशेष ध्यान 

  • अभ्यर्थी अपनी रैंक के अनुसार काउंसलिंग के लिए अपना पंजीकरण कर सकते हैं. ऑनलाइन आफ-कैम्पस काउंसलिंग का विस्तृत कार्यक्रम लखनऊ विश्वविद्यालय की वेबसाईट पर शीघ्र ही उपलब्ध होगा.
  • अभ्यर्थी काउंसलिंग प्रक्रिया आरंभ होने के पूर्व काउंसलिंग के लिए आवंटित समस्त अभिलेखों/प्रपत्रों को एकत्र कर लें.
  • काउंसलिंग के साथ ही महाविद्यालय शुल्क की भी व्यवस्था कर लें.
  • यदि किसी अभ्यर्थी के पास अर्हता परीक्षा उत्तीर्ण करने का प्रमाण पत्र अभी तक नहीं उपलब्ध हो सका है तो वे अपने विश्वविद्यालय के कुलसचिव अथवा परीक्षा नियंत्रक से शीघ्र संपर्क कर इसकी व्यवस्था कर लें.
  • अभ्यर्थी ‘च्वाइस-फिलिंग’ प्रक्रिया में विश्वविद्यालय/महाविद्यालय चयन के पूर्व वेबसाइट पर उपलब्ध विश्वविद्यालयों/महाविद्यालयों की सूची से अपनी पसंद के बीएड महाविद्यालयों के कोड नोट कर लें तथा उन्हें अपनी रूचि के क्रम में अधिकाधिक संख्या में भरें. जिससे वे अपने वांछित विश्वविद्यालय/महाविद्यालय में प्रवेश प्राप्त कर सकें.
loading...

Check Also

कानपुर : आपसे लक्ष्मी माता है नाराज, शिक्षिका से लाखों रुपए की टप्पेबाजी कर फरार हुए शातिर

तीन थानों की पुलिस फोर्स संग मौके पर पहुंचे एडीसीपी कानपुर  । शहर के सीसामाऊ ...