Saturday , November 27 2021
Home / क्राइम / हत्‍यारे जीजा ने ही साली की चिता को दी आग, आखिर यूपी पुलिस ने ऐसा क्यों कराया ?

हत्‍यारे जीजा ने ही साली की चिता को दी आग, आखिर यूपी पुलिस ने ऐसा क्यों कराया ?

बरेली। नाबालिग उम्र में जीजा से इश्क हुआ तो अंशु चार साल जीजा के साथ पत्नी बनकर रही। लेकिन मामूली कहासुनी के बाद जीजा ने ही उसकी हत्या कर दी। पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने यह कहते हुए शव लेने से मना कर दिया कि जिसने बड़ी बहन समेत पूरा परिवार बर्बाद कर दिया, वह उसका मुंह तक नहीं देखना चाहते। इसके बाद पुलिस ने आरोपित जीजा से ही अंशु का अंतिम संस्कार कराया।

क्योलड़िया के मैठी नवदिया गांव निवासी छत्रपाल ने 16 साल पहले बड़ी बेटी रुमा की शादी सिक्योरिटी गार्ड लालाराम गौतम से की थी। वह पत्नी व बच्चों के साथ रामनगर गौटिया में रहता था। लालाराम के संबंध साली अंशु से हो गए। वह उसे लेकर भाग निकला और परवाना नगर में किराए पर रहने लगा।

गुरुवार को लालाराम ने अंशु को खाने में रोटी बनाने के लिए कहा लेकिन उसने चावल बनाए थे।
घर आने पर चावल बना देख दोनों के बीच झगड़ा हुआ। उसने गुस्से में थप्पड़ मारा तो अंशु का सिर दीवार से लड़ जाने उसकी मौत हो गई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सीने पर वार से उसकी पसलियां टूटने के कारण मौत की पुष्टि हुई है। इंस्पेक्टर केके वर्मा ने कहा कि बहन की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है

loading...

Check Also

मुंबई ड्रग्स केस में एनसीबी ने 2 और संदिग्ध को किया गिरफ्तार

मुंबई । नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने मुंबई तट से एक क्रूज जहाज से प्रतिबंधित दवाओं ...