Saturday , July 24 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / अनलॉक हुआ रेलवे: दौड़ने लगीं 70 फीसदी गाड़ियां, दिल्ली और मुंबई के लिए 100 से अधिक स्पेशल ट्रेनें

अनलॉक हुआ रेलवे: दौड़ने लगीं 70 फीसदी गाड़ियां, दिल्ली और मुंबई के लिए 100 से अधिक स्पेशल ट्रेनें

गोरखपुर ।

पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर अब थमती नजर आ रही है। हर प्रदेश में कोरोना के आंकड़े लगातार कम होते जा रहे हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो अब जानलेवा कोरोना से जंग में लोगों का जीवट जीत गया है। यही कारण है कि अधिकतर राज्यों ने लॉकडाउन में काफी राहतें दे दी हैं, और ऐसे माहौल में अब रेलवे भी अनलॉक मोड में आ गया है। रोजाना रेलवे नई गाड़ियां चलाने का ऐलान कर रहा है।

सामान्य दिनों में पूर्वोत्तर रेलवे में चलने वाली 200 नियमित में 70 फीसद ट्रेनें रोजाना स्पेशल के रूप में चलने लगी हैं। गोरखपुर सहित विभिन्न स्टेशनों से दिल्ली और मुंबई रूट पर 100 से अधिक अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनें भी चल रही हैं।

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार के अनुसार पूर्वोत्तर रेलवे के विभिन्न स्टेशनों से दिल्ली क्षेत्र के लिए 42 स्पेशल ट्रेनें चल रही हैं। मुंबई और आसपास के क्षेत्रों में भी 64 स्पेशल ट्रेनें संचालित हैं। सिर्फ पनवेल के लिए ही गोरखपुर से तीन स्पेशल ट्रेनें चलती हैं। ज्यादातर स्पेशल ट्रेनों के फेरे भी बढ़ा दिए गए हैं। 10 जून से 28 निरस्त ट्रेनों का संचालन भी शुरू हो गया है। जल्द ही शेष निरस्त ट्रेनें भी चलाई जाएंगी। अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनों का भी संचालन होगा। मार्च, अप्रैल और मई में घर आए प्रवासी फिर से वापस होने लगे हैं। ट्रेनों के कंफर्म टिकट नहीं मिल रहे हैं। तत्काल टिकटों के लिए मारामारी मची हुई है।

महिला यात्रियों की सुरक्षा का विशेष ख्याल रखें जवान

पूर्वोत्तर रेलवे के प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त अतुल कुमार श्रीवास्तव ने वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्तों, सहायक सुरक्षा आयुक्तों और 80 बल कर्मियों के साथ वर्चुअल बैठक की। उन्होंने जवानों को निर्देशित किया कि वे कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करते हुए रेल यात्री, उनके सामान के साथ महिला यात्रियों की सुरक्षा का विशेष ख्याल रखें। उन्होंने जवानों की समस्याओं के समाधान का आश्वासन दिया।

नरमू ने की स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर करने की मांग

एनई रेलवे मजदूर यूनियन (नरमू) का प्रतिनिधि मंडल महामंत्री केएल गुप्त के नेतृत्व में प्रमुख मुख्य चिकित्सा निदेशक से मिला। इस दौरान कोरोना की तीसरी लहर की आशंका व्यक्त करते हुए ललित नारायण मिश्र केंद्रीय रेलवे अस्पताल में यथाशीघ्र बच्चों का अलग वार्ड तैयार कराने तथा स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने की मांग की। रेलवे प्रशासन अस्पताल में 16 बेड का वातानुकूलित पीडियाट्रिक वार्ड तैयार कर रहा है।

loading...

Check Also

वैक्सीन लगाने को लेकर आपस में भिड़ गईं महिलाएं, जमकर हुई मारपीट, वीडियो वायरल

खरगोन एमपी के खरगोन जिले में वैक्सीन को लेकर जबरदस्त मारामारी (People Crowd For Vaccine) ...