Saturday , July 24 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / बीजेपी ने जिला पंचायत चुनाव में सबसे बड़ा समाजवादी गढ़ भी ढहाया, 26 साल से यहां था सपा का कब्जा

बीजेपी ने जिला पंचायत चुनाव में सबसे बड़ा समाजवादी गढ़ भी ढहाया, 26 साल से यहां था सपा का कब्जा

मैनपुरी :  मैनपुरी में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए इतिहास में पहली बार बीजेपी ने जीत हासिल की है। इस सीट पर 1995 से लगातार एसपी का कब्जा बरकरार था। बीजेपी प्रत्याशी अर्चना भदौरिया ने 7 वोटों से एसपी के मनोज यादव को पराजित किया। बीजेपी प्रत्याशी अर्चना भदौरिया को 18 मत मिले तो वहीं, एसपी प्रत्याशी मनोज यादव को 11 मतों से ही संतोष करना पड़ा।

30 सदस्यों में से 29 ने किया मतदान
जिले में जिला पंचायत के कुल 30 सदस्य हैं। 30 में से 29 सदस्यों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। एक सदस्य लालू यादव जेल मे होने के कारण वोट नहीं डाल सका।

एसपी के गढ़ में सेंध
मैनपुरी की ये सीट इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि ये समाजवादी पार्टी का गढ़ कहा जाता है। बीजेपी जिलाध्यक्ष प्रदीप चौहान ने कहा कि समाजवादी पार्टी अपना किला बचाने में सफल नहीं हुई है। मोदी जी और योगी जी में जिला पंचायत सदस्यों ने विश्वास प्रकट किया है। लोकसभा विधानसभा चुनाव में भी समाजवादी पार्टी के ताबूत में आखिरी कील मैनपुरी में ठोंकी जाएगी।

मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री ने खुशी की जाहिर

यूपी के कैबिनेट मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री ने बीजेपी की जीत पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इतिहास में मैनपुरी में पहली बार बीजेपी का प्रत्याशी विजयी हुआ है। बहुत ही चुनौती पूर्ण चुनाव था। तमाम निर्दलीय, अन्य पार्टी के सदस्यों और हमारे सदस्यों ने बीजेपी को जीत दिलाने का काम किया है। आगामी विधानसभा चुनाव में मैनपुरी की चारों विधानसभा सीटों पर बीजेपी जीतेगी।

चुनाव हारे हुए प्रत्याशी ने लगाए आरोप
चुनाव हारे हुए एसपी प्रत्याशी मनोज यादव का कहना है कि डीएम से लेकर सभी हमें हराने मे लगे थे। हमारे सदस्यों पर मुकद्दमे लगाए गए, जमानत नहीं होने दी गई, अंदर भी धांधली हुई है।

loading...

Check Also

वैक्सीन लगाने को लेकर आपस में भिड़ गईं महिलाएं, जमकर हुई मारपीट, वीडियो वायरल

खरगोन एमपी के खरगोन जिले में वैक्सीन को लेकर जबरदस्त मारामारी (People Crowd For Vaccine) ...