Thursday , May 6 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / 30 अप्रैल से यूपी में और बिगड़ेंगे हालात, रोजाना मिलेंगे 1.19 लाख मरीज, जानें नीति आयोग का पूरा अनुमान

30 अप्रैल से यूपी में और बिगड़ेंगे हालात, रोजाना मिलेंगे 1.19 लाख मरीज, जानें नीति आयोग का पूरा अनुमान


लखनऊ. (CoronaVirus in UP) उत्तर प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर अपने चरम पर आनी अभी बाकी है। नीति आयोग (Niti Ayog) के ताजा अनुमान की अगर मानें तो अगले एक हफ्ते में यूपी कोरोना संक्रमण के मामलों में महाराष्ट्र (Maharashtra) को भी काफी पीछे छोड़ सकता है। निति आयोग के मुताबिक 30 अप्रैल के बाद यूपी में रोजाना करीब 1,19,604 नए मामले सामने आ सकते हैं। अगर ऐसी बनती है तो इसके लिए उत्तर प्रदेश में रोजाना 16,752 ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) और 3081 आईसीयू बेड (ICU Bed in UP) की जरूरत होगी। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) समेत 10 राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक में नीति आयोग ने यह अनुमान जारी किया है।

यूपी अब महाराष्ट्र को भी छोड़ेगा पीछे- नीति आयोग

नीति आयोग (स्वास्थ्य) के सदस्य और कोविड-19 टास्क फोर्स के अध्यक्ष वीके पॉल (VK Paul) की अगुवाई वाले पैनल के अनुमान के मुताबिक उत्तर प्रदेश जैसे बड़ी आबादी वाले राज्य अब कोरोना की दूसरी लहर से ज्यादा खतरे में हैं। क्योंकि यहां सेहत से जुड़ा बुनियादी ढांचा मौजूदा गंभीर हालात से निपटने के लिए पर्याप्त भी नहीं हैं। नीति आयोग के मुताबिक 30 अप्रैल तक उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा महाराष्ट्र को भी काफी पीछे छोड़ सकता है। कोरोना संक्रमण की मौजूदा रफ़्तार को देखते हुए 30 अप्रैल तक यूपी में रोजाना लगभग 1,19,604 नए मामले सामने आएंगे। अगर ऐसी स्थिति बनती है तो यूपी में 16,752 ऑक्सीजन और 3081 आईसीयू बेड की जरूरत पड़ेगी। इसके अलावा 1538 वेंटिलेटर्स की भी जरूरत होगी।

15 मई तक यूपी हॉटस्पॉट- नीति आयोग

नीति आयोग के अनुमान के मुताबिक 15 मई तक उत्तर प्रदेश हॉटस्पॉट बन सकता है। जिसका मतलब है कि कोरोना की दूसरी लहर में उत्तर प्रदेश सभी राज्यों को पीछे छोड़कर संक्रमण के मामले में टॉप पर पर आ सकता है। यही वजह है कि इस अनुमान के बाद उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार टीकाकरण पर काफी जोर दे रही है। 1 मई से शुरू हो रहे 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन देने के लिए योगी सरकार ने खास अभियान के तहत व्यवस्थाएं बनानी शुरू कर दी हैं। योगी सरकार ने एक करोड़ कोरोना टीके का आर्डर भी दे दिया है। 50-50 लाख डोज का ऑर्डर दोनों स्वदेशी वैक्सीन निर्माता कंपनियों को दिया गया है। इसके अलावा भारत सरकार द्वारा डोज उपलब्ध कराई जाएगी। साथ ही 1 मई से उत्तर प्रदेश में 8000 केंद्रों पर कोविड वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया जाएगा।

loading...
loading...

Check Also

महाराष्ट्र में कोरोना : लापरवाही से ‘स्वैब स्टिक’ बनाते मिले बच्चे, न हाथ में ग्लव्स और न चेहरे ढंके हुए

मुंबई. महाराष्ट्र में संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच ठाणे के उल्हासनगर में कोविड टेस्टिंग ...