Monday , December 6 2021
Home / ऑफबीट / पक्की रिपोर्ट : आखिर चल ही गया पता, कोरोना वायरस कहां से आया ?

पक्की रिपोर्ट : आखिर चल ही गया पता, कोरोना वायरस कहां से आया ?

बार-बार पश्चिमी देश आशंका जता रहे हैं कि चीन ने कोरोना वायरस को अपनी लैब में तैयार किया. इसके जवाब में चीन हमेशा यही बोला कि इसे चमगादड़ों ने फैलाया और अब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी चीन का साथ दिया है. WHO ने कहा है कि मौजूद सारे सबूतों को देखकर यही लगता है कि कोरोना वायरस का संक्रमण चमगादड़ से ही फैला हैऔर वायरस किसी लैब में नहीं बनाया गया है.

डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक विश्व स्वास्थ्य संगठन के वेस्टर्न पैसिफिक रीजनल डायरेक्टर तकेशी केसाई ने कहा है कि ये अभी पता लगाना संभव नहीं है, जिससे कहा जाए कि पक्के तौर पर इसी से कोरोना वायरस का संक्रमण फैला. लेकिन ऐसा लग रहा है कि संक्रमण चमगादड़ से ही इंसान के शरीर में आया.

इसके पहले भी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा था कि कोरोना वायरस की जेनेटिक जांच करने पर ये चमगादड़ों में पाए जाने वाले कोराना वायरस से मिलता जुलता दिखा है. इससे कहा जा सकता है कि वायरस पहले जानवरों में फैला, उसके बाद इंसानों के शरीर में प्रवेश किया.

WHO का बयान उस वक्त आया है, जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वो चीन में वुहान के लैब से कोराना का वायरस फैलने की जानकारी की जांच कराएंगे. पिछले दिनों ट्रंप ने कहा था कि सार्स जैसी महामारी के वायरस पर रिसर्च करने वाले वुहान लैब पर लगे आरोपों की जांच करवाई जाएगी.

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने भी कहा था कि वायरस के फैलने को लेकर चीन को ज्यादा पारदर्शी तरीके से अपनी बात रखनी चाहिए. इस बीच रूस की पूर्व स्वास्थ्य मंत्री वेरोनिका स्कवोर्तसोवा ने किसी लैब से कोरोना के लीक होने की किसी संभावना से इनकार किया है.

ऐसा कहा जा रहा है कि जानवरों से सबसे पहले ये वायरस हुन्नान के सीफूड मार्केट में आया. यहीं संक्रमण के सबसे पहले मामले सामने आए थे. हालांकि चीन अब तक संक्रमण के पहले मरीज को ढूंढ पाने में नाकाम रहा है. बिना पहले संक्रमित को खोजे, ये पता लगाना काफी मुश्किल है कि वायरस का स्रोत क्या है.

WHO ने भी कहा है कि हो सकता है की सीफूड मार्केट से सबसे पहली बार वायरस का संक्रमण एक इंसान में आया और फिर उससे ये दूसरों में फैला. इस बारे में जांच जारी है.

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...