Saturday , September 25 2021
Breaking News
Home / अंतर्राष्ट्रीय / अमेरिकी रिसर्च का दावा- भारत में कोरोना से 49 लाख मौतें, क्यों सिर्फ 4 लाख है सरकारी आंकड़ा?

अमेरिकी रिसर्च का दावा- भारत में कोरोना से 49 लाख मौतें, क्यों सिर्फ 4 लाख है सरकारी आंकड़ा?

भारत में जल्द ही कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आने का अंदेशा लगाया जा रहा है जो कि पहले की दोनों लहरों के मुकाबले ज्यादा खतरनाक होने वाली है। इसी बीच कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान भारत में हुई मौतों का आंकड़ा सामने आया है।

अमेरिका के सेंटर फॉर ग्लोबल डेवलपमेंट ने एक रिसर्च की रिपोर्ट सार्वजनिक की है जिसमें बताया गया है कि भारत में कोरोना संक्रमण की वजह से लगभग 49 लाख मौतें हुई हैं। जबकि भारत सरकार द्वारा जून 2021 तक कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों का आधिकारिक आंकड़ा 4 लाख बताया गया था।

अमेरिका के सेंटर फ़ॉर ग्लोबल डेवेलपमेंट द्वारा भारत में कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों की भयावह स्थिति बयां करते हुए 3 अनुमान लगाए गए हैं। इसमें भारत में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान बड़ी त्रासदी होने की बात कही गई है।

इसके साथ ही इसमें कोरोना से होने वाली मौतों की कम रिपोर्टिंग होने की आशंका भी जताई गई है। स्टडी में यह भी बताया गया है कि भारत में आई कोरोना महामारी पहली लहर ज्यादा घातक थी। लेकिन उसमें डेथ रेट काफी कम था। कोरोना की पहली लहर में भारत में 20 लाख मौतों की आशंका जताई गई है।

कोरोना महामारी को भारत में आजादी और बंटवारे के बाद सबसे बड़ी मानवीय त्रासदी करार दिया गया है। जिसमें इतनी भारी संख्या में मौतें हुई हैं। अमेरिका के सेंटर फॉर ग्लोबल डेवेलपमेंट द्वारा की गई ये स्टडी सीरो सर्वे, हाउसहोल्ड डाटा और ऑफिशल डाटा पर आधारित है।

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान भारत के कई राज्यों में प्रशासनिक कुप्रबंधन और बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था की वजह से लाखों लोगों ने अपनी जान गंवाई है।

जिसके लिए दुनिया भर में मोदी सरकार की कई देशों द्वारा आलोचना की गई है। भारत सरकार कोरोना से मरने वालों के आंकड़े को छिपाने की कोशिश करती आई है।

loading...

Check Also

पंजाब के नए मुख्यमंत्री का भांगड़ा वाला वीडियो हुआ वायरल तो एक्ट्रेस स्वरा का यूं आया रिएक्शन

नई दिल्ली :  पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का एक वीडियो सोशल मीडिया ...