Sunday , May 16 2021
Breaking News
Home / खबर / BJP की हार पर बोलीं महुआ मोइत्रा- बंगाल दिखाया कि ‘टैगोर’ किसे कहते हैं और ‘आसाराम’ किसे?

BJP की हार पर बोलीं महुआ मोइत्रा- बंगाल दिखाया कि ‘टैगोर’ किसे कहते हैं और ‘आसाराम’ किसे?

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के बाद भाजपा की काफी किरकिरी हो रही है। दरअसल भाजपा द्वारा राज्य में बहुमत से सरकार बनाने के दावे के ममता बनर्जी ने बुरी तरह से परखचे उड़ा दिए हैं।

इस प्रचंड जीत के बाद टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने भाजपा पर तीखा हमला किया है।

टीएमसी नेता और सांसद महुआ मोइत्रा ने BBC हिंदी को इंटरव्यू देते हुए कहा कि ममता बनर्जी एक असली लीडर है जोकि असली खेला खेलती हैं।

ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को शेर की तरह लड़ी है। किसी दूसरे नेता में इतना दम बिल्कुल भी नहीं है।

वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री है। अगर वह चाहती तो 2 विधानसभा सीटों से चुनाव लड़ सकती थी। उन्होंने भाजपा का मुकाबला करते हुए एक ही सीट से चुनाव लड़ा।

ममता बनर्जी की अगुवाई में तृणमूल कांग्रेस ने 216 सीटों पर जीत हासिल की है। बंगाल के लोगों ने यह दिखा दिया है कि रबीन्द्रनाथ टैगोर किसे कहते हैं और आसाराम किसे कहते हैं।

बंगाल की जनता ने 48 फीसदी वोट शेयर लेकर भाजपा को मुंह पर मार दिया है।

महुआ मोइत्रा का कहना है कि विधानसभा चुनाव जीतने के लिए तृणमूल कांग्रेस की तरफ से अगर ममता बनर्जी को नंदीग्राम सीट का बलिदान देना पड़ा।

तो इससे भारत की जनता को एक सन्देश मिल गया है। वो ये है कि भाजपा और मोदी को हराना मुश्किल नहीं है।

पश्चिम बंगाल में टीएमसी की जीत के बाद भाजपा ने आरोप लगाया कि हुगली में उनके पार्टी दफ्तर में टीएमसी कार्यकर्ताओं ने आग लगा दी है।

इसका जवाब देते हुए टीएमसी सांसद ने कहा कि भाजपा ने तो गोधरा से आग लगानी शुरू की और दिल्ली में चल रही है। पूरा देश ही जल रहा है। अगर भाजपा कुछ ऐसा आरोप लगा रही है तो पुलिस में शिकायत की जाए और इसकी जांच करवाएं।

पश्चिम बंगाल में कोरोना महामारी के दौरान भाजपा और टीएमसी की रैलियों पर उठे सवाल का जवाब देते हुए महुआ मोइत्रा ने कहा कि यह सब भाजपा और चुनाव आयोग की सांठ-गांठ से हुआ है।

टीएमसी ने चुनाव आयोग को कई बाहर राज्य में एक चरण में ही विधानसभा चुनाव करवाने के लिए कहा। लेकिन पीएम मोदी और अमित शाह के इशारे पर राज्य में 8 चरणों में चुनाव हुए।

जब दूसरे राज्यों से आकर भाजपा के नेता बड़ी बड़ी रैलियों को आयोजित कर रहे थे। तो हम चुप नहीं बैठ सकते थे।

क्योंकि हमारी पार्टी को भी यह दिखाना था कि भाजपा को कड़ी टक्कर देने वाला विपक्ष पश्चिम बंगाल में मौजूद है।

loading...
loading...

Check Also

हिसार में हंगामा: कोविड अस्‍पताल का फीता काटने पहुंचे CM खट्टर का विरोध किए किसान, DSP को पीटा

हिसार में रविवार को 500 बिस्तर की क्षमता वाले अस्थायी कोविड अस्पताल का उद्घाटन करने ...