Monday , October 18 2021
Breaking News
Home / खबर / MP में ब्लैक फंगस का कोहराम, ये शहर बना हॉटस्पॉट, आंकड़े कर देंगे परेशान

MP में ब्लैक फंगस का कोहराम, ये शहर बना हॉटस्पॉट, आंकड़े कर देंगे परेशान

इंदौर/ मध्‍य प्रदेश की आर्थिक नगरी इंदौर में कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में आने वाले मरीजों से अभी पूरी तरह से राहत मिली भी नहीं है कि, शहर में अब ब्लैक फंगस संक्रमण (म्यूकर माइकोसिस) का खतरा बढ़ता जा रहा है। यहां संक्रमण की रफ्तार देखते हुए सरकार भी परेशान है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, शहर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (MYH) में पिछले 20 दिनों के भीतर ही ब्लैक फंगस (Black Fungus) से ग्रस्त 32 मरीज दम तोड़ चुके हैं। एमवायएच अधीक्षक प्रमेंद्र ठाकुर ने बुधवार देर शाम इसकी पुष्टि की है।

13 मई से अब तक 439 मरीज हो चुके हैं भर्ती, 84 स्वस्थ हुए, 32 की मौत

आपको बता दें कि, एमवायएच में ही मध्‍य प्रदेश के ब्लैक फंगस से ग्रस्त सबसे अधिक मरीजो का इलाज चल रहा है। जहां इंदौर के अलावा अन्य जिलों के मरीज भी भर्ती हैं। इस बाबत एमवायएच के अधीक्षक प्रमेंद्र ठाकुर ने बताया, ‘हमारे अस्पताल में ब्लैक फंगस का पहला मरीज 13 मई को भर्ती किया गया था। इसके बाद से लेकर अब तक इसके कुल 439 मरीज भर्ती किये जा चुके हैं। खुशा की बात ये भी है कि, इनमें से 84 लोग स्वस्थ होकर अपने घर भी लौट चुके हैं। जबकि, 32 मरीजों की मौत हो चुकी है।’

20 दिनों में 200 से अधिक सर्जरी

एमवायएच के अधीक्षक प्रमेंद्र ठाकुर के मुताबिक, अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीजों की वर्तमान मृत्यु दर 7.29 फीसदी है और ये दर प्रदेश के अन्य अस्पतालों के मुकाबले कम है। उन्होंने बताया कि, ब्लैक फंगस के मरीजों की जान बचाने के लिए पिछले 20 दिनों के भीतर ही यहां 200 से अधिक मरीजों की सर्जरी की जा चुकी है। उन्‍होंने ये भी बताया कि, एमवायएच में फिलहाल ब्लैक फंगस के 323 मरीज भर्ती हैं। इनमें से 14 लोग कोरोना संक्रमित हैं, जबकि 301 लोगों में कोरोना से उबरने के बाद ब्लैक फंगस के लक्षण देखे गए। ब्लैक फंगस के 8 अन्य मरीज ऐसे भी हैं, जिन्हें कोरोना होने का कोई रिकॉर्ड नहीं है।

कोरोना से उबरने वाले 93 फीसदी आए ब्लैक फंगस की चपेट में

बहरहाल, आंकडों पर गौर करें, तो 93 फीसदी मरीज कोविड-19 संक्रमण से मुक्त होने के बाद ब्लैक फंगस के शिकार हुए हैं। वैसे इंदौर मध्य प्रदेश में कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, करीब 35 लाख की आबादी वाले जिले में 24 मार्च 2020 से लेकर अब तक महामारी के कुल 1,50,516 मरीज सामने आ चुके हैं। इनमें से 1 हजार 347 लोगों की इलाज के दौरान मौत हुई है।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...