Saturday , October 16 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / CM योगी ने किसानों को दी बड़ी सौगात, गन्ने का समर्थन मूल्य ₹325 से बढ़ाकर किया ₹350

CM योगी ने किसानों को दी बड़ी सौगात, गन्ने का समर्थन मूल्य ₹325 से बढ़ाकर किया ₹350

योगी सरकार ने प्रदेश के 45 लाख गन्ना किसानों को आज बड़ी सौगात दी है। रविवार को लखनऊ में आयोजित भाजपा किसान मोर्चा के किसान सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने गन्ना मूल्य में 25 रुपए की बढ़ोत्तरी का ऐलान किया। अब गन्ना किसानों को 325 की जगह 350 रुपए प्रति कुंतल के हिसाब से भुगतान किया जाएगा। सामान्य गन्ने के लिए 315 के बजाय 340 रुपए का भुगतान किया जाएगा।

सम्मेलन में सीएम योगी ने सपा-बसपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। कहा, जब किसान आत्महत्या कर रहा था, तब सपा-बसपा और कांग्रेस के लोग कहां थे? पिछली सरकारें किसानों के पेट पर लात मार रही थीं। बसपा की सरकार में औने-पौने दाम पर चीनी मिलें बेची गईं। 250 करोड़ की चीनी मिलें 25-30 करोड़ रुपए में बिक गईं। सपा की सरकार में 11 चीनी मिलें बंद हुईं।

योगी ने कहा कि 2004 से लेकर 2014 तक का शासन आपने देखा होगा? देश और प्रदेश के लिए अंधकार युग था। यूपी का विकास एकदम रुक गया था। अराजकता व गुंडागर्दी का बोलबाला था। कोई सुरक्षित नहीं था। प्रदेश का किसान आत्महत्या व गरीब भूख से मर रहा था। योगी ने कहा कि 46 वर्षों से अधूरी पड़ी बाण सागर परियोजना का काम क्यों अधूरा था? सपा और कांग्रेस के राजकुमारों से पूछना चाहता हूं। आखिर क्यों किसान यूरिया के लिए लाठी खाता था?

सीएम योगी दो अहम बातें

  • गन्ना मूल्य में वृद्धि से गन्ना किसानों की आय में आठ फीसदी की बढ़ोत्तरी होगी। इससे प्रदेश के 45 लाख किसानों को लाभ मिलेगा। पराली जलाने को लेकर किसानों पर दर्ज हुए सारे मुकदमें वापस लेने की कार्रवाई शुरु कर दी गई है।
  • पिछली सरकारों में गन्ना किसानों को अपनी उपज जलाने की नौबत थी, क्योंकि उस असमय चीनी मिलें बंद हो जाती थीं। पिछली सरकार में काम करने के लिए साफ नियत और सही सोच दोनों नहीं था।

अब गन्ने के होंगे ये दाम

प्रदेश में किसानों को गन्ने की वैराइटी के हिसाब से भुगतान होता है। अभी तक 310 रुपए, 315 रुपए और 325 रुपए प्रति क्विंटल मिल रहा था। अब 335 रुपए, 340 रुपए और 350 रुपए प्रति क्विंटल दाम मिलेंगे। इससे पहले योगी सरकार ने यूपी की सत्ता संभालने के तुरंत बाद गन्ने के रेट में 10 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाए थे। उसके बाद अब बढ़ोतरी हुई है। हालांकि किसान 400 रुपए प्रति क्विंटल की मांग कर रहे थे।

मोर्चा अध्यक्ष ने कहा- किसान होंगे आत्मनिर्भर

किसान सम्मेलन का लखनऊ में वृंदावन योजना के डिफेंस एक्सपो ग्राउंड पर आयोजन हुआ। इस किसान सम्मेलन में यूपी के हर एक विधानसभा से किसान आए थे। भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह ने बताया कि आजादी के बाद उत्तर प्रदेश के किसानों की सुधि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ली है। किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लेते हुए उन्होंने किसान हित में जो फैसले किए हैं, उन्हें धरातल पर सीएम योगी आदित्यनाथ लागू करवा रहे हैं। चाहे नई चीनी मिलों की स्थापना हो या बंद पड़ी चीनी मिलों को फिर से संचालन कराने की बात हो। किसान को आत्मनिर्भर और समृद्धशाली बनाने की दिशा में मजबूत कदम उठाया गया। विपक्षी दल उत्तर प्रदेश में अफवाहें फैलाकर सरकार की विकासवादी नीतियों को प्रभावित करने के लिए अराजकता का वातावरण बनाना चाहते हैं।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...