Saturday , December 4 2021
Home / उत्तर प्रदेश / जमाती के बाद अब कोरोना फैलाए ये परदेसी, इनपर भी हो सख्त कार्रवाई

जमाती के बाद अब कोरोना फैलाए ये परदेसी, इनपर भी हो सख्त कार्रवाई

सरकार की ओर से तमाम कोशिश किए जाने के बावजूद देश में कोरोना संक्रमण के नए-नए मामले सामने आ रहे हैं। देश में अब तक 6,700 से ज्यादा मरीजों की पुष्टि हुई है जबकि 210 लोग इस खतरनाक वायरस से अपनी जान गंवा चुके हैं। गुरुवार को संक्रमण के आंकड़े में अचानक से उछाल आया है। गौर करने वाली बात यह है कि बिहार और राजस्थान में अचानक से संक्रमण के केस बढ़ गए हैं। संक्रमण के नए मामलों के अध्ययन में एक बात जाहिर हो रही है कि खाड़ी देशों से आए लोग संक्रमण फैला रहे हैं। पिछले सप्ताह तबलीगी जमात के लोगों की वजह से कोरोना संक्रमण के केस में इजाफा हुआ था, अब खाड़ी देशों से लौटे लोग संक्रमण की वजह बन रहे हैं। आइए ऐसे ही कुछ केस पर नजर डालते हैं।

ओमान से लौटी महिला ने सिवान को बनाया वुहान
बिहार का सिवान अचानक से सुर्खियों में आ गया है। लोग इसे बिहार का वुहान कहकर भी संबोधित कर रहे हैं। चीन के वुहान शहर की तरह बिहार के सिवान में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। गुरुवार को सिवान में नौ नए केस सामने आए हैं। जांच में पता चला है कि सिवान में एक महिला ओमान से लौटी है, उसी ने सभी को संक्रमित किया है। जिस महिला से एक परिवार के 9 सदस्य कोरोना के शिकार हुए वह महिला ओमान से आई थी और 7 अप्रैल को इसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। 9 मरीजों में एक ही परिवार की 50, 29, 26, 20 और 18 साल की 5 महिलाएं, 30 साल का एक पुरुष, 12-12 साल की दो बच्चियां और 10 साल का एक बच्चा है।

बिहार का कोरोना से जान गंवाने वाले पहले शख्स भी दोहा की राजधानी कतर से लौटे थे। इसके अलावा सिवान का 36 वर्षीय कोरोना संक्रमित शख्स भी दुबई से भारत आया है।

ओमान से आए शख्स की वजह से राजस्थान में हालत खराब
खाड़ी देश ओमान से लौटे शख्स की वजह से ही राजस्थान में हालात खराब हैं। जयपुर के रामगंज को हॉटस्पॉट बनाने वाला शख्स भी ओमान से आया है। जयपुर के रामगंज में संक्रमण का पहला मामला ओमान से आए 45 साल के व्यक्ति में मिला था। 11 मार्च को ओमान से लौटने के बाद मेडिकल टीम ने इस व्यक्ति को क्वारंटीन में रहने के लिए कहा था। लेकिन वह दोस्तों से मिला, मस्जिद जाकर नमाज पढ़ता रहा और शहर में घूमता रहा।

24 मार्च को इसे बुखार आया, तो एसएमएस अस्पताल की कोरोना ओपीडी में हिस्ट्री और लक्षण देखकर उसे भर्ती कर लिया गया। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही पूरा क्षेत्र अति संवेदनशील घोषित कर दिया गया है। प्रशासन ने पूरे इलाके को सील कर दिया है। तब से पूरे इलाके कर्फ्यू लगा है और अब तक जयपुर में 140 मरीज मिल चुके हैं। इनमें अधिकांश रामगंज से हैं।

राजस्थान के झुंझुनूं जिले में गुरुवार को दो लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इन दोनों में 45 वर्षीय शख्स कतर से और 22 वर्षीय युवा दुबई से लौटा है।

खाड़ी देश से लौटे शख्स ने एमपी में फैलाया कोरोना
मध्य प्रदेश में भी कोरोना फैलने के पीछे खाड़ी देशों की यात्रा है। दुबई से मुरैना लौटे शख्स ने 12 लोगों को संक्रमित किया है। इसके अलावा मुंबई और गुजरात में भी संक्रमण के कई मामलों की में ट्रैवल हिस्ट्री खाड़ी देशों की रही है।

यूरोप और अमेरिका में कोरोना का कहर
दुनियाभर में कोरोना वायरस के मामले 15 लाख से अधिक का आंकड़ा पार कर गए हैं। आधिकारिक सूत्रों से एकत्रित किए गए आंकड़ों के अनुसार, गत वर्ष चीन में इस विषाणु के सामने आने के बाद से पूरी दुनिया में 16,50,478 संक्रमित लोगों में से 1,00,320 लोगों की मौत हो चुकी है।

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...