Garuda Purana :मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए ‘इस’ आदत से दूर रहें, धन में वृद्धि होगी और सुख में वृद्धि होगी

गरुड़ पुराण: गरुड़ पुराण (गरुड़ पुराण युक्तियाँ) में मनुष्य के कर्मों का लेखा-जोखा दिया गया है। जो मनुष्य के पाप और पुण्य को निर्धारित करता है। इसके साथ ही गरुड़ पुराण में भगवान विष्णु की महिमा का वर्णन है। उनकी भक्ति का भी विस्तार से वर्णन किया गया है। जीवन के लिए गरुड़ पुराण और मृत्यु के रहस्य को बहुत विस्तार से समझाया गया है। सफलता और खुशी के लिए सफलता युक्तियाँकई मार्गों का भी उल्लेख किया गया है। कई बार व्यक्ति कुछ ऐसी आदतों को अपना लेता है जिससे उसे परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में गरुड़ पुराण में कुछ बुरी आदतों का जिक्र है, जिससे देवता नाराज हो जाते हैं और जातक पर तरह-तरह की विपदाएं आती हैं. इसलिए बुरी चीजों से बचना चाहिए। तो आइए जानते हैं किन बुरी आदतों से व्यक्ति को बचना चाहिए…

दूसरों से नफरत न करें

कुछ लोग ऐसे होते हैं जो दूसरों की खुशी से ईर्ष्या करते हैं। गरुड़ पुराण के अनुसार व्यक्ति की यही ईर्ष्या उसे अंदर से खोखला कर देती है। ऐसे समय में किसी को भी दूसरों की खुशी से ईर्ष्या या ईर्ष्या नहीं करनी चाहिए। 

साफ-सफाई का ध्यान रखें

गरुड़ पुराण में स्वच्छता को विशेष महत्व दिया गया है। जहां स्वच्छता होती है वहां मां लक्ष्मी की महक होती है। साथ ही अशुद्ध और गंदे कपड़े पहनने वालों पर भी मां लक्ष्मी प्रसन्न नहीं होती हैं। ऐसे लोग जीवन भर गरीबी सहते हैं। इसलिए स्वच्छता का हमेशा ध्यान रखना चाहिए। 

रात में दही खाने से बचें

गरुड़ पुराण में भी खाने-पीने का उल्लेख है। गरुड़ पुराण के अनुसार दही का सेवन सेहत के लिए अच्छा होता है, लेकिन रात के समय इससे बचना चाहिए। रात को दही खाने से शरीर में एसिड की मात्रा बढ़ जाती है। नतीजतन, नींद अच्छी नहीं आती और बेचैनी बढ़ जाती है।

पैसे का घमंड मत करो

जीने के लिए पैसा जरूरी है, लेकिन पैसा ही सब कुछ नहीं है। गरुड़ पुराण के अनुसार कभी भी धन का अभिमान नहीं करना चाहिए। धन के अहंकार में मनुष्य जानबूझकर दूसरों का अपमान करता है। इसलिए उन्हें समाज में भी अपमान का सामना करना पड़ता है। साथ ही मां लक्ष्मी भी उनसे दूर हो जाती हैं।