Monday , June 14 2021
Breaking News
Home / ऑफबीट / ‘पंख लगाये देवदूत..’ मोनिका यादव की ये कविता आपको भी भावुक कर देगी, पढ़ें

‘पंख लगाये देवदूत..’ मोनिका यादव की ये कविता आपको भी भावुक कर देगी, पढ़ें

पँख लगाये देवदूत-

 

पक्षियों की ऊँची उड़ान

उगते हुए सूरज के साथ

क्या है ये प्रकृति का राज़

जो जगते हैं ये एक साथ

 

पर फैलाये मस्ती में उड़ते

कभी झुंड में तो कभी अकेले

कितने उत्सुक, मन को भाते

ये छोटे पर प्यारे परिंदे

 

सवेरे सवेरे इनका अवलोकन

जीने का जैसे मिला प्रयोजन

बीती रात कौन याद रखे

जब प्रातः दिखें ऐसे नज़ारे

 

यूँ ही नहीं ये करते विचरण

छिपा हुआ कोई गहरा कारण

अपनी ही कोई बोली इनकी

बस सुनते ही मिल जाती तृप्ति

कौन जाने पँख लगाये

देवदूत खुद आकाश से आते

 

(कवयित्री मोनिका यादव)

loading...
loading...

Check Also

2 करोड़: कोरोना से जंग में जान लड़ा दिया है गुजरात, हासिल किया बड़ा मुकाम

अहमदाबाद. प्रदेश में कोरोना से सुरक्षा कवच के रूप में रविवार को भी 234551 को ...