India vs England, Practice Match Preview:तीन महीने बाद रेड बॉल से भिड़ेगी टीम इंडिया

भारतीय क्रिकेट टीम गुरुवार को लीसेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच के साथ दौरे की शुरुआत करेगी। इसके बाद 1 जुलाई से दोनों टीमों के बीच टेस्ट मैच खेला जाएगा। भारतीय टीम के इंग्लैंड दौरे पर खेला जाने वाला इकलौता टेस्ट मैच। बर्मिंघम में खेले जाने वाले इस टेस्ट मैच से पहले टीम इंडिया के पास अपनी तैयारी को परखने का मौका होगा. भारतीय टीम की कप्तानी रोहित शर्मा कर रहे हैं. भारतीय टीम ने पिछले तीन महीने में एक भी टेस्ट मैच नहीं खेला है। इस तरह तीन महीने बाद वह लाल गेंद पर हाथ आजमाएंगे। यह मैच पिछले साल खेली गई पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी बचा हुआ मैच है।

टीम इंडिया के लिए समस्या यह है कि ऐसी खबरें हैं कि पूर्व कप्तान विराट कोहली कोरो के लिए सकारात्मक हैं, जो पूरी टीम के लिए खतरा है। हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है। कोहली बीसीसीआई द्वारा साझा किए गए अभ्यास सत्र के वीडियो में भी शामिल रहे हैं।

टीमों में हुए हैं बड़े बदलाव

सीरीज के पहले चार मैच और इस आखिरी मैच में काफी अंतर देखने को मिला है। दोनों टीमों में काफी कुछ बदला है। सीरीज के पहले चार टेस्ट में टीम इंडिया की कप्तानी विराट कोहली ने की थी और कोच रवि शास्त्री थे। जहां अब कप्तानी रोहित शर्मा के हाथ में है, वहीं राहुल द्रविड़ टीम के कोच हैं। जो रूट ने पहले चार टेस्ट में इंग्लैंड की कप्तानी की जबकि क्रिस सिल्वरवुड मुख्य कोच थे। अब पांचवें मैच में इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स हैं।

भारतीय टीम तीन महीने बाद टेस्ट मैच खेलने जा रही है

लीसेस्टर में ट्रेनिंग सेशन के दौरान भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने खूब पसीना बहाया। अभ्यास मैच में भारत का सामना काउंटी टीम से होगा। केएल राहुल के चोटिल होने के बाद रोहित शर्मा और शुभमन गिल ओपनिंग में उतरेंगे। शुभमन गिल ने पिछले साल न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद से एक भी मैच नहीं खेला है। वह उस सीरीज में भी कुछ खास नहीं कर पाए थे। अब वह इस मैच में ऑस्ट्रेलिया दौरे की सफलता को दोहराने की कोशिश करते नजर आएंगे।

रोहित शर्मा के लिए भी यह एक अच्छी परीक्षा होगी जहां वह पहली बार भारत के बाहर टीम की अगुवाई करते नजर आएंगे। यह मैच चेतेश्वर पुजारा के लिए टीम में वापसी का अहम मौका है। इस अभ्यास मैच से तीन महीने से सीमित ओवरों का क्रिकेट खेल रही टीम को टेस्ट में रंग भरने में मदद मिलेगी।