Saturday , November 27 2021
Home / ऑफबीट / कुत्ते का काटना है बेहद खतरनाक, ये प्राथमिक उपचार बचा सकता है आपकी जान

कुत्ते का काटना है बेहद खतरनाक, ये प्राथमिक उपचार बचा सकता है आपकी जान

आजकल लगभग हर तीसरे घर में कुत्तों को पाला जाता है, जिन्हे काफी ज्यादा वफादार माना जाता है। कहा जाता है कि  कुत्ते आखिरी सांस तक अपने मालिक का साथ देते हैं, लेकिन कुछ लोग कुत्तों से बहुत ज्यादा डरते हैं, क्योंकि कई बार आपका ये वफादार दोस्त किसी कारणवश किसी को काट लेता है, जिसकी वजह से उसे कई परेशानियोंं से गुज़रना पड़ता है। कुत्ते के काटने के बाद पीड़ित व्यक्ति के अंदर कई तरह के बदलाव आते हैं, जिससे कई बार उसका व्यवहार भी बदल जाता है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

जब किसी इंसान को कुत्ता काटता है, तो उसमें वायरस फैलने का खतरा बढ़ जाता है। खासकर अगर रेबीज पीड़ित कुत्ते ने इंसान को काट लिया तो उस शक्स के अंदर संक्रमण फैल जाता है। इसलिए कुत्ते के काटने के तुरंत बाद आपको प्रभावित क्षेत्र को पानी से धोकर वहां फौरन ही कपड़ा बांध लेना चाहिए, ताकि इस संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इसके बाद आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, ताकि आपके अंदर किसी भी तरह का कोई संक्रमण न फैले और आप सुरक्षित रहे।

कुत्ते के काटने पर क्या होता है?

कुत्ते के काटने के बाद कई चीज़े होती है, जिनकी चर्चा नीचे की गई है –

  • आपको सूजन या बुखार जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
  • आपको शारीरिक संक्रमण का खतरा ज्यादा हो सकता है।
  • यदि आापको रेबीज से पीड़ित कुत्ता काटता है, तो आपको भी रेबीज होने का खतरा हो जाता है।
  • कुत्ते के काटने के बाद आपको घाव या खून बहने की भी परेशानी हो सकती है।
  • कुत्ते के काटने के  बाद आपको मानसिक बीमारी का खतरा बढ़ जाता है।

कुत्ते के काटने के बाद प्राथमिक उपचार क्या है?

कुत्ते के काटने के बाद आपको प्राथमिक इलाज करना ज़रूरी है, क्योंकि अगर आपने ऐसा नहीं किया तो संक्रमण का खतरा बहुत जल्दी  फैल जाता है। तो चलिए जानते हैं कि कुत्ते के काटने पर क्या इलाज किया जाना चाहिए –

घाव को धोएं 

कुत्ते के काटने के तुरंत बाद घाव को धोना चाहिए और इसके बाद उसे किसी साफ कपड़े से बांध लेना चाहिए। इसके बाद जितनी जल्दी हो सके आपको डॉक्टर के पास ज़रूर जाना चाहिए।

कुत्ते के काटने के बाद कौन से इंजेक्शन लगाए जाते हैं?

1.टेटनस का इंजेक्शनकुत्ते के काटने के बाद तंत्र से जुड़ी परेशानी से आपको सामना करना पड़ सकता है, इसलिए डॉक्टर टेटनस का इंजेक्शन देते हैं, ताकि आपको तंत्र से जुड़ी कोई परेशानी न हो। दरअसल, कुत्ते के काटने से शरीर में संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है, इसलिए इस इंजेक्शन का प्रयोग किया जाता है।

2.रेबीज़ का इंजेक्शन

कुत्ते के काटने के बाद तुरंत बाद रेबीज़ का इंजेक्शन लगाया जाता है। जी हां, यह इंजेक्शन के तुरंत लगता है, दूसरा तीसरे दिन और तीसरा सातवें दिन और चौथा 14वें दिन लगता है। दरअसल, पीड़ित व्यक्ति को रेबीज़ की बीमारी से बचाने के लिए ये सभी इंजेक्शन दिया जाता है। इसके अलावा यह पूरी तरह से मरीज के हालत पर निर्भर करता है कि उसका ट्रीटमेंट किस आधार पर किया जाएगा।

loading...

Check Also

रहस्य : हिमाचल में 550 साल पुरानी ममी, आज भी बढ़ रहे है इनके नाखून और बाल

हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति जिले के गियू गांव में 550 साल से ज्यादा पुरानी ...