Saturday , October 16 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / Lakhimpur Kheri Live Update : किसानों की ‘अंतिम अरदास’ पर गरमाई सियासत, प्रियंका समेत कई दिग्गजों का लखीमपुर में जमावड़ा

Lakhimpur Kheri Live Update : किसानों की ‘अंतिम अरदास’ पर गरमाई सियासत, प्रियंका समेत कई दिग्गजों का लखीमपुर में जमावड़ा

यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence) में चार किसान, एक पत्रकार और अन्य चार लोगों की मौत हुई थी. घटना में मृत चारों किसानों की ‘अंतिम अरदास’ (Antim Ardas) आज होगी. इस मौके पर प्रियंका-टिकैत समेत कई दिग्गजों का लखीमपुर में जमावड़ा होगा.

लखीमपुर खीरी: जिले में 3 अक्टूबर को हुई हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence) में मारे गए किसानों की ‘अंतिम अरदास’ (Antim Ardas) आज मंगलवार को होगी. भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) की अगुआई में बड़ी तादाद में किसान यहां जुट रहे हैं. कार्यक्रम के पहले भोग पड़ेगा, उसके बाद ‘अंतिम अरदास’ का कार्यक्रम होगा. कार्यक्रम के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने पूरे देश से किसानों को पहुंचने के लिए कहा है. वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी लखीमपुर खीरी का दौरा करेंगी. किसानों के ‘अंतिम अरदास’ में हिस्सा लेंगी.

संयुक्त किसान मोर्चा का दावा है कि 50 हजार से ज्यादा किसान खीरी पहुंचेंगे. तिकुनियां गांव के पहले ही खेतों को खाली कराकर भारी-भरकम पंडाल लगाया गया है. किसान नेता राकेश टिकैत रात में ही व्यवस्थाओं को सुचारू करने के लिए तिकोनिया पहुंच चुके हैं. 18 गाड़ियों के साथ राकेश टिकैत लखीमपुर खीरी के तिकुनिया पहुंचे हैं.

इसके अलावा भारतीय किसान यूनियन के तमाम पदाधिकारी भी तिकोनिया पहुंच चुके हैं. संयुक्त किसान मोर्चा के बड़े नेताओं के भी पहुंचने के आसार हैं. ‘अंतिम अरदास’ में कई राजनैतिक दलों के बड़े नेता भी पहुंच सकते हैं. हालांकि संयुक्त किसान मोर्चा ने किसी राजनैतिक दल को मंच साझा करने की अनुमति नहीं दी है, लेकिन शोक प्रकट करने और आने की अनुमति है.

तिकोनियां और जिले में शांति व्यवस्था न बिगड़े, इसके लिए आरएएफ और एसएसबी पैरामिलिट्री को भी भेजा गया है. भारी संख्या में पीएसी को भी तैनात किया गया है. सभी थानों की पुलिस और आस-पास के जिलों से भी पुलिस बल को बुलाया गया है. करीब 20 से 22 आईपीएस खीरी जिले में इस वक्त हैं. एक तरफ किसानों को थार से कुचलने के मामले में पुलिसिया जांच चल रही है. वहीं दूसरी तरफ किसान गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग को लेकर आज एकजुट हो रहे हैं. भोग और अंतिम अरदास के बाद संयुक्त किसान मोर्चा आंदोलन को लेकर कुछ बड़े एलान भी करेगा और रणनीति का खुलासा भी करेगा.

संयुक्त किसान मोर्चा ने कॉल किया है कि जब तक गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी का इस्तीफा नहीं हो जाता, तब तक उनका आंदोलन चलता रहेगा. राकेश टिकैत ने तिकोनियां पहुंचकर बयान दिया है कि गृह राज्यमंत्री भी इस केस में शामिल हैं. इसलिए उनके खिलाफ भी कार्रवाई हो.

आज राष्ट्रपति से मिल सकती हैं प्रियंका गांधी

3 अक्टूबर को तिकुनिया में हुई हिंसा के मामले में लगातार सियासी दल भी मुखर होते चले जा रहे हैं. केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के इस्तीफे की मांग को लेकर समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस की ओर से भी बड़े बयान जारी किए गए हैं. इस पूरे मामले में कांग्रेस से प्रियंका गांधी काफी मुखर रही हैं. यहां सभी पार्टियां अपना राजनीतिक नफा देख रही हैं. प्रियंका गांधी किसान न्याय के नाम से लगातार संघर्ष कर रही हैं. वहीं मंगलवार को प्रियंका गांधी किसानों के ‘अंतिम अरदास’ में पहुंचने के अलावा कांग्रेस डेलिगेशन के साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मिल सकती हैं.

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...