Wednesday , October 20 2021
Breaking News
Home / खबर / LOC से लेकर LAC तक जंग का माहौल, भारत पर दोनों ओर से अचानक हमले की साजिश रचे चीन-पाकिस्तान!

LOC से लेकर LAC तक जंग का माहौल, भारत पर दोनों ओर से अचानक हमले की साजिश रचे चीन-पाकिस्तान!

भारत और दुनिया को शांति और सद्भाव के उपदेश देने वाला चीन पाकिस्तान के साथ मिल कर विवादित सीमा के भीतर युद्धाभ्यास कर रहा है। चीन और पाकिस्तान भारत के दुश्मन हैं, उनकी ये हरकत साबित कर रही है। जहां एक ओर भारत कोरोना महामारी से खुद भी जंग कर रहा है और दुनिया के सभी देशों को इस महामारी में मदद कर रहा है वहीं चीन और पाकिस्तान जैसे दुष्ट देश भारत फौजी जंग थोपने की साजिश कर रहे हैं।

एलएसी से एलओसी तक तनाव के बीच पाकिस्‍तान और चीन की वायुसेनाओं का सयुंक्त युद्धाभ्‍यास भारत के लिए खतरे की घंटी है। भारतीय वायु सेना भी इस युद्धाभ्यास का 24घंटे सीमा की निगरानी कर रही है। भारत और चीन के बीच विवादित तिब्‍बत के इलाके को पाकिस्‍तान और चीन ने सैन्‍य अभ्‍यास के चुनना भी काफी मायने रखता है। पाकिस्तान की चाल यह है कि वह कश्मीर के पूर्व में अपनी उपस्थिति दिखाकर खुद को ताकतवर होने और चीन को जंगी साथी बताने का प्रयास कर रहा है।

अतंरराष्‍ट्रीय नियमों के मुताबिक कोई भी देश किसी दूसरे देश के साथ युद्धाभ्यास के दौरान उस क्षेत्र में उड़ान नहीं भरता जो विवादित हो। इस युद्धाभ्‍यास के दौरान तिब्बत के कई इलाके से जो भारत और चीन के बीच विवादित हैं, फिर भी पाकिस्तान वहां से युद्धाभ्यास कर रहा है। उसके लड़ाकू विमान भारतीय वायुसीमा से कुछ ही दूरी पर उड़ान भर रहे हैं।

चीन और पाकिस्तान दोनों जानते हैं कि भारत को अकेले जीत पाना मुश्किल हैं, दोनों को एक दूसरे की जरूरत है इसलिएचीनने पाकिस्तान को भारत के खिलाफ जंग के लिए विवादित क्षेत्र में आमंत्रित किया है। इससे पहले 2019में भी पाकिस्तान और चीन की वायु सेना इसी इलाके में युद्धाभ्यास कर चुकी हैं। तब पाकिस्तान के जे-17और चीन के जे-10लड़ाकू विमानों ने हिस्सा लिया था।

इस सैन्‍य अभ्‍यास के चलते इंडियन आर्मी और एयरफोर्स ने चीन से सटी सीमा पर सतर्कता बढ़ा दी है। लद्दाख के सीमा से सटे हुए इलाकों में इस समय विशेष सावधानी बरती जा रही। इस युद्धाभ्यास में चीन और पाकिस्‍तान के लड़ाकू विमान हवा से हवा, हवा से जमीन और हवा से पानी में मिसाइल दागने और लक्ष्य को बर्बाद करने का अभ्यास कर रहे हैं।

इस युद्धाभ्‍यास के पीछे चीन की सोची समझी रणनीति है। दरअसल, तिब्बत सामरिक रूप से काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। चीन ने तिब्‍बत पर अपना दावा पेश करता रहा है। तिब्‍बत का इलाका भारत के पूर्वी लद्दाख से सटा हुआ है। पिछले एक साल से यह पूरा क्षेत्र भारत और चीन के बीच विवाद का केंद्र बना हुआ है। यही कारण है कि पाकिस्तान और चीन ने भारत को उकसाने के लिए युद्धाभ्‍यास के लिए इस क्षेत्र को चुना है।

इंडिया की मिलिटरी इंटेलीजेंस को चीन और पाक की नापाक हरकतों का पहले से पता है। इसलिए इन लोगों की हरकतों को देखते हुए एलएसी से लेकर एलओसी तक इंडियन आर्मी और एयरफोर्स को तैयार रहने और हमले की स्थिति में दुश्मनों को माकूल जवाब के साथ उनको उनकी जमीन पर मार गिराने का हुक्म दिया गया है। इंडियन आर्मी को कहा गया है कि अपरिहार्य परिस्थिति में अगर जंग करनी पड़े तो वो जंग दुश्मन की जमीन पर होनी चाहिए।

loading...

Check Also

खूबसूरत जेलीफिश को देखने नजदीक जाना पड़ेगा महंगा, 160 फीट लंबी मूछों में भरा है जहर

लंदन (ईएमएस)। पुर्तगाली मैन ओवर नाम की जेलीफिश आजकल ब्रिटेन के समुद्र किनारे आतंक मचा ...