Sunday , June 13 2021
Breaking News
Home / खबर / भोपाल में वीकेंड लॉकडाउन.. ग्वालियर में बारी-बारी खुलेंगी दुकानें.. जानिए MP में किस शहर को कितनी छूट

भोपाल में वीकेंड लॉकडाउन.. ग्वालियर में बारी-बारी खुलेंगी दुकानें.. जानिए MP में किस शहर को कितनी छूट

मध्यप्रदेश में 1 जून से अनलॉक शुरू हो रहा है। प्रदेश सरकार ने सभी जिलों को अनलॉक की राज्यस्तरीय गाइडलाइन भेज दी है। कुछ जिलों को छोड़कर अधिकतर जिलों में अनलॉक में छूट देने की तैयारी कर ली है। भोपाल में शनिवार और रविवार को लॉकडाउन का प्रस्ताव है। इसके अलावा अन्य दिनों में बाजारों की 25% दुकानें खोली जानी है। इस पर व्यापारियों का कहना है कि कम समय और कम दुकानें खुलने से भीड़ बढ़ेगी। इस कारण सप्ताह में 6 दिन सभी दुकानें खोली जाएं। ग्वालियर में दो शिफ्टों में बाजार खुलेंगे। इंदौर, जबलपुर और सागर में गाइडलाइन को लेकर आज फैसला होगा। दमोह में 7 और मुरैना में 4 जून तक लॉकडाउन पहले ही बढ़ा दिया गया है।

जानिए किस जिले में कितनी छूट

भोपाल: हार्डवेयर, बिल्डिंग मटेरियल, इलेक्ट्रिकल दुकानें हफ्ते में 2 दिन खुलेंगी, व्यापारी बोले-भीड़ बढ़ जाएगी, 6 दिन सभी खुलें
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 1 जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो रही है। इसको लेकर रविवार को वल्लभ भवन में जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई। इसमें रविवार के अलावा शनिवार को भी लॉकडाउन का प्रस्ताव रखा गया है। अगर यह प्रस्ताव सरकार से पास हो जाता है तो भोपाल में शुक्रवार रात 10 से सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रहेगा।

भोपाल में सिर्फ 25% दुकानें खुलेंगी। हार्डवेयर, बिल्डिंग मटेरियल और इलेक्ट्रिकल की दुकानें भी सप्ताह में दो दिन खोलने को लेकर निर्णय हुआ है। सप्ताह के दो दिन तय करके ऑर्डर जारी किया जाएगा, लेकिन व्यापारी संगठनों का कहना है कि 1 जून से सभी दुकानें और बाजार खोलने की अनुमति दें। दुकानें सप्ताह में 6 दिन सुबह 11 बजे से 9 बजे तक खुलें। बाजार कम समय खुलेगा तो भीड़ बढ़ेगी।

इंदौर में अनलॉक पर आज फिर बैठक: क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी में सुझावों पर रात तक नहीं बन सकी सहमति
जून से शहर में क्या राहत मिलेगी और किस पर पाबंदी रहेगी। इस पर विचार आज आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में होगा। इसके बाद प्रस्ताव शासन को भेज दिया जाएगा। फिलहाल खेती-किसानी से संबंधित दुकानें और किराना दुकानों का समय बढ़ाने पर फैसला हो सकता है। जहां भीड़ नहीं होती है, ऐसे दफ्तरों को खुलने की छूट मिल सकती है।

इससे पहले, रविवार रात तक चली इस बैठक में कोई ठोस निर्णय नहीं हो सका। बैठक में सांसद शंकर लालवानी, प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट और कलेक्टर मनीष सिंह समेत समिति के सभी सदस्य मौजूद थे। मीडिया से चर्चा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि निर्णय आपदा प्रबंधन समिति करेगी ।

ग्वालियर: दूध, जरूरी सामान की दुकानें 11 बजे तक, बाकी बाजार 11 से 5 बजे तक खुलेंगे
रविवार रात को हुई क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में अनलॉक ग्वालियर का स्वरूप लगभग तय हो गया है। बाजार दो शिफ्ट में खोले जाएंगे। जरूरी सामान जैसे किराना, दूध, सब्जी, अंडा-ब्रेड से जुड़ी दुकानें सुबह 11 बजे तक खोली जाएंगी। बाकी बाजार सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक खोले जाएंगे।

रविवार और मंगलवार को सप्ताह में दो दिन बाजार बंद रहेंगे। इतना ही नहीं शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 10 बजे तक जनता कर्फ्यू लागू रहेगा। कोचिंग सेंटर, स्कूल, कॉलेज, जिम और मॉल को लेकर कोई राय नहीं बन पाई है। साथ् ही यह भी तय हुआ है कि अनलॉक का प्रभाव क्या पड़ रहा है इसके लिए 6 जून को समीक्षा बैठक होगी। सरकार के पास प्रस्ताव है।

जबलपुर: घंटों चली मीटिग में सिर्फ सुझाव आते रहे, किसी ठोस मुद्दे पर सहमति नहीं, आज साफ होगी तस्वीर

1 जून की सुबह शहर और ग्रामीण क्षेत्र अनलॉक होंगे, लेकिन इसकी तस्वीर अभी तक साफ नहीं हो पाई है। रविवार को आपदा प्रबंधन समिति की वर्चुअल मीटिंग में प्रभारी मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया काफी देर तक मंथन करते रहे, लेकिन यह तय नहीं हो पाया कि अनलॉक में किस तरह की छूट दी जाए। पहले यह कहा गया कि 50% दुकानें खोली जाएं और इसके लिए ऑड-ईवन फाॅर्मूला अपनाया जाए, लेकिन लगभग सभी विधायकों ने इस पर आपत्ति की और कहा कि सभी दुकानों को छूट दी जाए।

उज्जैन: एक दिन लेफ्ट तो दूसरे दिन राइट साइड की दुकानें खुलेंगी, महाकाल मंदिर श्रद्धालुओं के फिलहाल रहेगा बंद
उज्जैन में रविवार को क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक हुई। इसमें शहर को 1 जून से शर्तों के साथ खोलने का निर्णय लिया गया। इसमें तय हुआ कि संक्रमण वाली जगह के आसपास का इलाका छोड़कर सभी जगह निर्माण कार्य को छूट रहेगी। कृषि उपज मंडी शुरू और खाद-बीच की दुकानें खुलेंगी। धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। शराब दुकानों पर राज्य सरकार की गाइडलाइन लागू होगी।

सभी दुकानें सुबह 6 बजे शाम 6 बजे तक खोली जा सकेंगी, लेकिन एक दिन सड़क के लेफ्ट साइड की और अगले दिन राइट साइड की दुकानें खुलेंगी। महाकाल मंदिर में श्रद्धालुओं पर फिलहाल रोक रहेगी। क्राइसिस मैनजमेंट की मीटिंग में कैबिनेट मंत्री मोहन यादव, विधायक पारस जैन और कलेक्टर आशीष सिंह सहित जिले के आला अधिकारी मौजूद थे।

होशंगाबाद: सैलून, ब्यूटी पार्लर को लेकर संशय
कोरोना संक्रमण दर कम होने के साथ होशंगाबाद जिला 1 जून से अनलॉक होगा। अनलॉक में किराना, रेस्टारेंट, इलेक्ट्रानिक्स, ऑटो-पार्टस, होटल, शराब दुकान सहित सभी प्रकार के व्यवसाय सुबह 8 से दोपहर 3 खुलेंगे। हर दिन रात 10 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। सैलून, ब्यूटी पार्लर की दुकान खोलने को लेकर असमंजस बना हुआ है।

रीवा: एक दिन राइट साइड की तो दूसरे दिन लेफ्ट साइड की दुकानें सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक खुलेंगी
रीवा को 1 जून से अनलॉक करने पर कलेक्ट्रेट में ​रविवार सुबह 11.30 बजे क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक हुई। इसमें 50% बाजार खोलने का निर्णय लिया गया। एक दिन राइट साइड की दुकानें दूसरे दिन लेफ्ट साइड की दुकानें खोलने पर सहमति बनी। यह नियम फिलहाल 7 दिन के लिए है। बसों को 50% सवारियों के साथ चलाने का फैसला किया गया है। ऑटो रिक्शा में सिर्फ दो यात्रियों को बैठने की अनुमति दी गई है। शादी में 20 लोग शामिल होंगे, लेकिन शादी की अनुमति दिन में ही होगी।

गुना: सप्ताह में कुछ सेक्टर की दुकानें 3-3 दिन खुलेंगी
​​​​​​​ 
गुना जिले में अनलॉक को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी गई है। रविवार शाम को हुई आपदा प्रबंधन की बैठक में बनी सहमति के बाद कलेक्टर ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए। आदेश के अनुसार लगभग पूरे बाजार को खोलने की अनुमति दे दी गई है। केमिस्ट, किराना दुकानें, फल सब्जी, डेयरी और दूध, आटा-चक्की, पशु आहार की दुकानें, कृषि उपकरण, खाद-बीज की दुकानें रोजाना सुबह 9 से शाम 6 बजे तक खुलेंगी।

कपड़ा/रेडीमेड, फुटवियर, बर्तन, सराफा, टेलरिंग, जनरल स्टोर, लगेज, हेयर कटिंग और मोची की दुकान- सोमवार, बुधवार और शुक्रवार, सुबह 9 से शाम 6 बजे तक खुलेंगी।​​​​​​​ इलेक्ट्रिकल्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, बिल्डिंग मटेरियल, ऑप्टिकल्स, स्टेशनरी, फोटो कॉपी, हार्डवेयर, टायर की दुकानें, ऑटो पार्ट्स, वाहन सर्विस सेंटर, टेंट हाउस, मिठाई, बेकरी और बताशे की दुकानें- मंगलवार, गुरुवार और शनिवार, सुबह 9 से शाम 6 बजे तक खुलेंगी।

देवास: हाथ ठेलों से सब्जी और फल बेचे जा सकेंगे
देवास में 1 जून से अनलॉक शुरू हो रहा है। रविवार को क्राइसिस मैनेजमेंट की मीटिंग के बाद कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला की तरफ से जारी आदेश जारी किया गया। इसके मुताबिक जिले की सभी किराना दुकानें खुलेंगी। ऑटो और निजी वाहन में ड्राइवर और 2 सवारी मास्क पहनकर जा सकेंगे।

किसी भी जगह पर 6 से ज्यादा लोग नहीं जुटेंगे। सैलून, किराना और फल-सब्जी की दुकानें खुलेंगी। रेस्टोरेंट 50% क्षमता से खुलेंगे। निजी दफ्तरों में 100% वर्क फोर्स को मंजूरी सरकारी में अफसर 50% और कर्मचारी 100% रहेंगे। चाट-चौपाटी, हाट बाजार और सब्जी मंडी बंद रहेंगी।

रतलाम: फल-सब्जी ठेलों पर ही बिकेंगी, किराना और दूध की दुकानें खुलेंगी
रतलाम जिले में कोविड प्रभारी मंत्री जगदीश देवड़ा की उपस्थिति में हुई क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में जिले में आंशिक रूप से अनलॉक करने का निर्णय लिया गया है। 1 से 7 जून के बीच अनलॉक का दोबारा रिव्यू किया जाएगा इसके बाद आगे के अनलॉक के बारे में निर्णय लिया जाएगा।

शॉपिंग मॉल और सुपर मार्केट बंद रहेंगे, लेकिन वह किराना सामग्री की होम डिलीवरी कर सकेंगे। किराना, दूध और आटा चक्की की दुकानें भी खोली जा सकेंगी। फल और सब्जी की बिक्री के लिए फेरी लगाकर बिक्री की अनुमति दी जाएगी। 1 जून से शहर में लागू ई पास व्यवस्था भी बंद कर दी जाएगी। किसी भी दुकान पर 6 से अधिक लोगों की उपस्थिति पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

भिंड: ठेला व्यापारी होंगे हॉकर्स जोन में शिफ्ट
भिंड में रविवार को हुई जिला क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में निर्णय लिया गया कि जिलेभर का मार्केट दो शिफ्ट में खुलेगा। बहुत जरूरी चीजों की दुकानों के अलावा बाजार में कपड़ों की दुकानें, फैंसी आइटम, कॉस्मेटिक की दुकान, फुटवियर, जनरल स्टोर की दुकान सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुलेंगी।

दूसरी शिफ्ट में में दोपहर 2 बजे से रात 8 बजे तक बर्तन, सर्राफा, फर्नीचर, स्टेशनरी की दुकानें खोली जा सकेंगी। इनके अलावा भिंड के सदर बाजार में खड़े होने वाले हाथ ठेले हॉकर्स जोन में शिफ्ट किए जाएंगे। शादी समारोह और अंतिम संस्कार शर्तों के साथ होंगे।

loading...
loading...

Check Also

यात्रीगण कृपया ध्यान दें, दोबारा शुरू हो रही हैं ये स्पेशल ट्रेनें, रूट और टाइमटेबल जानें

Indian Railways, IRCTC:पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर अब थमती नजर आ रही है। ...