Monday , December 6 2021
Home / धार्मिक / मां अन्नपूर्णा होती हैं इस आसान काम से प्रसन्न, घर में हमेशा बनी रहती बरकत

मां अन्नपूर्णा होती हैं इस आसान काम से प्रसन्न, घर में हमेशा बनी रहती बरकत

व्यक्ति अपने घर की खुशहाली बनाए रखने के लिए और धन से जुड़ी हुई परेशानियों से मुक्ति पाने के लिए दिन-रात कठिन मेहनत करता है, परंतु कई बार देखा गया है कि व्यक्ति की मेहनत का उचित परिणाम नहीं मिल पाता है, किसी ना किसी वजह से घर में परेशानी लगी रहती है, यहां तक कि घर की बरकत भी चली जाती है, अगर आप भी अपने जीवन की परेशानियों से काफी दुखी हो गए है, आपके घर में बरकत नहीं होती है तो ऐसे में आपको मां अन्नपूर्णा को प्रसन्न करना बहुत ही जरूरी है, यदि माता अन्नपूर्णा आपसे प्रसन्न होंगी तो आपके घर में कभी भी अन्न कमी नहीं होगी और आपके घर घर में बरकत आएगी, आज हम आपको कुछ ऐसे सरल उपाय बताने वाले हैं जिनको करके आप मां अन्नपूर्णा को खुश कर सकते हैं।

आइए जानते हैं मां अन्नपूर्णा को प्रसन्न करने के उपाय

  • आप इस बात का ध्यान रखें कि आप अपने घर की रसोई में माता अन्नपूर्णा की तस्वीर अवश्य लगाएं और रोजाना नियमित रूप से खाना बनाने से पहले विधि विधान पूर्वक इनकी पूजा कीजिए, यदि आप इस उपाय को अपनाते हैं तो इससे आपके घर में कभी भी अन्न का अभाव नहीं रहेगा।
  • महिलाएं इस बात का ध्यान रखें कि अगर आप खाना बना रही हैं तो उससे पहले स्नान अवश्य कर लीजिए, उसके पश्चात ही आप रसोई घर में प्रवेश करें, खाना बनाने से पहले आप गैस चूल्हे की भी अच्छी तरह से साफ सफाई कीजिए और खाना बनाने के बाद आप पहला भोग मां अन्नपूर्णा को लगाएं, इससे इनकी कृपा दृष्टि आप पर बनी रहेगी।

  • आप इस बात का ध्यान रखें कि आप दक्षिण दिशा में कभी भी गैस चूल्हा ना रखें क्योंकि यह दिशा पितरों की मानी जाती है, यदि आप इस दिशा में गैस चूल्हा रखकर खाना बनाती है तो इससे घर परिवार के सदस्यों की आयु कम होती है और मां अन्नपूर्णा भी नाराज हो सकती हैं, रसोई घर में गैस चूल्हा पश्चिम दिशा की तरफ भी नहीं रखना चाहिए क्योंकि यदि आप इस दिशा में भोजन बनाकर घर के लोगों को देते हैं तो इससे घर परिवार के लोगों की सेहत खराब होती है।
  • अगर आप चाहते हैं कि मां अन्नपूर्णा आपसे हमेशा प्रसन्न रहें तो इसके लिए खाना बनाने के पश्चाताप 3 रोटियां अलग से निकाल कर रख लीजिए, आप पहली रोटी गाय को, दूसरी रोटी काले कुत्ते को और तीसरी रोटी कौवे को खाने के लिए दीजिए।
  • आप भोजन करने से पहले मां अन्नपूर्णा का स्मरण कीजिए और प्रार्थना करें कि उनका आशीर्वाद आप पर हमेशा बना रहे, यदि आपके घर में कोई मेहमान आता है तो उसको भोजन कराए बिना घर से ना जाने दें।
  • अगर आपके घर के दरवाजे पर कोई निर्धन व्यक्ति या भिखारी आता है तो उसको भोजन कराएं, ऐसा करने से मां अन्नपूर्णा के साथ-साथ शनिदेव भी प्रसन्न होते हैं, इसके अलावा वर्ष में एक बार आप किसी निर्धन ब्राह्मण को अपने वजन के बराबर अनाज का दान अवश्य कीजिए, यदि आप ऐसा करेंगे तो इससे आपके घर परिवार में धन-धान्य की कमी नहीं रहेगी।
  • आप वर्ष में एक बार अपनी बहन या बेटी को विदा करते समय सात प्रकार के अनाज अवश्य दीजिए, इससे आपके घर में और बहन या बेटी के घर में अनाज की कमी नहीं होगी।
loading...

Check Also

वास्तुशास्त्र : घर की सुख-समृद्धि के लिए जरुरी हैं मनी प्लांट, लेकिन कुछ गलतियों से हो सकता हैं नुकसान

वास्तुशास्त्र में घर की सुख-समृद्धि के लिए लोग पेड़-पोधों का खास महत्व माना गया है। ...