Saturday , July 24 2021
Breaking News
Home / क्राइम / पत्नी का मायके में एक प्रेमी और दूसरा था ससुराल में, दोनों से पति को मरवा डाला

पत्नी का मायके में एक प्रेमी और दूसरा था ससुराल में, दोनों से पति को मरवा डाला

रतलाम के कांकरवा गांव में रामलाल की हत्या की साजिश उसकी पत्नी रेखाबाई ने अपने दो प्रेमियों के साथ मिलकर रची थी। कुएं बंद बोरे में मिली लाश के मामले में रिंगनोद थाना पुलिस ने बुधवार को खुलासा कर दिया। मामले में पुलिस ने शंकरलाल मालवीय, समरथ और रेखाबाई को गिरफ्तार किया है। एक अन्य आरोपी सत्यनारायण मालवीय फरार है। अवैध संबंधों का राज खुलने की वजह से रेखाबाई ने प्रेमियों के साथ मिलकर पति को मरवा दिया था।

रिंगनोद थाना पुलिस को सोमवार दोपहर सूचना मिली थी कि कांकरवा गांव के रामगोपाल सुथार के कुएं से बदबू आ रही है। एक बोरा भी दिख रहा है। घटनास्थल पर पहुंच कर पुलिस ने कुुुएं से बंद बोरे में लाश बरामद की। उसकी पहचान गांव के ही रामलाल रायकवार के रूप में हुई। मृतक रामलाल के हाथ-पैर बंधे थे। लाश को पानी में डुबाने के लिए बोरे में भारी पत्थर भी रखे गए थे। पुलिस ने मामले में हत्या की आशंका व्यक्त करते हुए पोस्टमाॅर्टम करवाया।

लंबे समय से पति से अलग रह रही थी पत्नी

मृतक रामलाल रायकवार की पत्नी रेखाबाई लंबे समय से अलग रह रही थी। एक महीने पहले ही वह वापस रामलाल के साथ रहने के लिए कांकरवा गांव आई थी। थोड़े दिनों के बाद रेखाबाई का प्रेमी समरथ उससे मिलने के लिए गांव में आया था। पति रामलाल को पत्नी के अवैध संबंध की शंका हुई। दोनों के बीच इस बात को लेकर विवाद भी हुआ। इसके बाद पत्नी रेखाबाई ने पति को रास्ते से हटाने का निर्णय ले लिया।

रेखाबाई के कहने पर समरथ और शंकरलाल ने गांव के ही सत्तू उर्फ सत्यनारायण को भी साथ मिला लिया, जिससे मृतक रामलाल ने 30 हजार रुपए उधार लिए थे। पैसों को वह नहीं लौटा पा रहा था। आरोपियों ने रामलाल को शंकर लाल के कुएं पर शराब पीने बुलाया। यहां आरोपियों ने रामलाल का गला दबाकर मार डाला। इसके बाद उसके हाथ-पैर बांधकर बोरे में बंद कर दिया। लाश फूलने के बाद पानी से बाहर न आ जाए, इसके लिए बदमाशों ने बोरे में पत्थर भी डाल दिए थे।

युवक की लाश इस तरह मिली थी।

ऐसे सुलझी हत्या की गुत्थी

दरअसल,रामलाल गांव से पिछले 5-6 दिनों से लापता था, लेकिन मृतक की पत्नी और परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की शिकायत थाने में दर्ज नहीं करवाई थी। शक होने पर पुलिस ने जब रामलाल की पत्नी से पूछताछ की, तो मामले का खुलासा हो गया।

रिंगनोद थाना पुलिस ने इस मामले में रामलाल की पत्नी रेखाबाई, गांव के शंकरलाल मालवीय और समरथ को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, एक अन्य आरोपी सत्तू उर्फ सत्यनारायण फरार है। रिंगनोद थाना पुलिस फरार आरोपी की तलाश में जुटी है।

रामलाल को रास्ते से हटाकर शंकरलाल से शादी करना चाहती थी रेखाबाई

रेखाबाई का मायका मंदसौर जिले के भावगढ़ में है, जहां पास के गांव के समरथ से उसके प्रेम संबंध थे। वहीं ससुराल में भी रेखाबाई के संबंध शंकरलाल मालवीय से बन गए थे। रेखाबाई पति रामलाल को रास्ते से हटाकर शंकरलाल से शादी करना चाहती थी। इसी बीच रेखाबाई का पहला प्रेमी समरथ कांकरवा गांव आया तब तीनों ने मिलकर रामलाल की हत्या का प्लान बना लिया।

loading...

Check Also

वैक्सीन लगाने को लेकर आपस में भिड़ गईं महिलाएं, जमकर हुई मारपीट, वीडियो वायरल

खरगोन एमपी के खरगोन जिले में वैक्सीन को लेकर जबरदस्त मारामारी (People Crowd For Vaccine) ...