Friday , July 23 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / तीसरी लहर की तैयारी: यूपी के 11 जिलों को सौगात दिए योगी, अब यहां कोरोना पर जीत पक्की!

तीसरी लहर की तैयारी: यूपी के 11 जिलों को सौगात दिए योगी, अब यहां कोरोना पर जीत पक्की!

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को बीएसएल टू लैब और स्वास्थ्य केंद्र ऐप का शुभारंभ किया। प्रदेश के अब हर जिले में बीएसएल टू लैब होगी। वहीं अब ऐप एक क्लिक पर चिकित्‍सीय सुविधाओं की जानकारी मिलेगी। प्रदेश सरकार ने 11 जिलों को नई लैब की सौगात दी है। जिससे छोटे जिलों में भी तेजी से कोरोना की जांच हो सकेगी। प्रदेश के 30 अन्य जनपदों में भी जल्‍द प्रयोगशालाएं स्थापित की जाएंगी।

जिल 11 जनपदों में लैब की शुरुआत की गई हैं, उनमें बिजनौर, मऊ, सिद्धार्थनगर, महोबा, सोनभद्र, कासगंज, कुशीनगर, अमेठी, औरैया, देवरिया, बुलंदशहर शामिल हैं। इनमें अब आरटीपीआर की जांच हो सकेगी। प्रदेश में इन नई प्रयोगशालाओं के संचालन से एक ओर जांच की संख्या में तेजी से इजाफा होगा वहीं संक्रमण को मात देने में भी सरकार को मदद मिलेगी।

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कम होते केस के बावजूद योगी सरकार निरंतर जांच प्रक्रिया का विस्‍तार कर रही है। प्रदेश के 11 जनपदों में बीएसएल-2 आरटीपीसीआर प्रयोगशालाओं का उद्घाटन के साथ अब 44 जनपदों में आरटीपीसीआर प्रयोगशालाएं स्‍थापित की जा चुकी हैं। जल्‍द ही अन्‍य 30 जिलों में भी आरटीपीसीआर लैब स्थापित की जाएंगी वहीं, सीतापुर में बीएसएल टू लैब का निर्माण अंतिम चरण में है।

इन नई प्रयोगशालाओं के बढ़ने से एक ओर जांच की संख्या में तेजी से इजाफा होगा वहीं ट्रिपल टी की नीति के तहत कोरोना की जांच से संक्रमण पर लगाम लगने के साथ ही कोरोना वायरस के नए वेरिएंट की पहचान हो सकेगी।

अब घर बैठे मिलेगा चिकित्‍सीय सुविधाओं का ब्‍योरा-

प्रधानमंत्री के नेशनल डिजिटल हेल्‍थ मिशन की परिकल्‍पना को साकार करते हुए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने डिजिटल यूपी की ओर एक कदम और बढ़ाते हुए उत्‍तर प्रदेश को स्वास्थ्य केंद्र ऐप की सौगात दी है। अब प्रदेशवासियों को एक क्लिक पर अस्‍पतालों की जानकारी, दवाओं की उपलब्‍धता, मानव संसाधनों के बारे में जानकारी मिल सकेगी।

शहर से लेकर गांव के अस्‍पतालों के डाटा से लैस इस ऐप से लोगों को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा। प्रदेश के 25 हजार से अधिक स्‍वास्‍थय केन्‍द्रों की डिजिटल मैपिंग करते हुए अलग-अलग पोर्टल पर मौजूद मानव संसाधन, दवा और कार्यक्रमों की सभी जानकारी को एकीकृत करते हुए इस ऐप को तैयार किया गया है। जिसमें प्रदेश स्‍तर से लेकर गांव स्‍तर तक के अस्‍पतालों का डाटा देखा जा सकेगा।

इस ऐप पर सीएचसी पीएचसी और सब सेंटर का डाटा देखा जा सकता है। ब्‍लॉक के अंदर जो सीएचसी है उससे जुड़ी सभी जानकारियां इस ऐप पर उपलब्‍ध होंगी। इसके साथ ही आशाबहु डॉक्‍टरों की संख्‍या, उपलब्‍ध दवाओं की सूची व अन्‍य जानकारियां भी रहेंगी। जल्‍द ही इस ऐप को नेशनल डिजिटल हेल्‍थ मिशन से जोड़ा जाएगा।

loading...

Check Also

आगरा: 8.5 करोड़ की डकैती का मास्टरमाइंड है खानदानी अपराधी, दो भाइयों का हुआ एनकाउंटर, बहन पर भी 8 केस दर्ज

आगरा में मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी में 8.5 करोड़ रुपए की डकैती का मास्टरमाइंड नरेंद्र ...