Monday , December 6 2021
Home / धार्मिक / इस राशि के पति होते हैं बहुत शक्की, कभी नहीं करते अपनी पत्नी पर यकीन

इस राशि के पति होते हैं बहुत शक्की, कभी नहीं करते अपनी पत्नी पर यकीन

ज्योतिष शास्त्र को मानने वाले लोग ग्रह-नक्षत्रो और राशियों पर विश्वास करते हैं और इंसान के जीवन में सुख-दुख इन्हीं ग्रह-नक्षत्रो के अपने स्थान परिवर्तन के कारण आते हैं। दरअसल जब ग्रह अपने स्थान परिवर्तित करते हैं तो उनका सीधा असर राशियों के ऊपर पड़ता हैं और यही प्रभाव मनुष्य के जीवन पर पड़ता हैं क्योंकि हर मनुष्य किसी ना किसी राशि से जुड़ा होता हैं। इस वजह से मनुष्य के जीवन में परेशानियाँ भी आती हैं, यदि आपके राशि में ग्रहों का अच्छा प्रभाव हैं तो फिर आपके जीवन में सब कुछ अच्छा होगा लेकिन यदि इन्हीं ग्रहों का प्रभाव आपके राशि मे अच्छा नहीं होगा तो आपके जीवन में समस्याओं का सिलसिला जारी हो जाएगा। ऐसे में इन्हीं समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए लोग भगवान की शरण में जाते हैं और अपने जीवन में आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए उनकी पूजा करते हैं।

इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि किन राशियों को किस भगवान की पूजा करने से उन्हें लाभ की प्राप्ति होगी और उनके जीवन में आ रही सभी समस्याएँ भी दूर हो जाएंगी। हालांकि पूजा तो सभी भगवान की करनी चाहिए और ऐसा करने से भी आपको लाभ मिलता हैं लेकिन आप अपने राशि के मुताबिक भगवान की पूजा करते हैं तो आपको इसका दुगुना लाभ मिलता हैं।

मेष और वृषभ राशि

मेष और वृषभ राशि के स्वामी हनुमान जी हैं और भगवान हनुमान को भगवान श्री राम जी प्रिय है। आपको बता दें की यही वजह है की इस राशि के जातक भगवान हनुमान या भगवान श्री राम दोनों में किसी की भी पूजा कर सकते हैं, मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा पढ़ने से आपके सभी दुख तकलीफ़े दूर हो जाएंगी।

वृश्चिक और तुला राशि

वृश्चिक और तुला राशि का स्वामी शुक्र है और इन दोनों राशि के जातको को माँ दुर्गा की पूजा करने से लाभ मिलता हैं। माँ दुर्गा की पूजा करने से साथ आप ॐ दु दुर्गायै नमः मंत्र का जाप करते हैं तो आप अपने जीवन में बहुत ज्यादा तरक्की करते हैं।

मिथुन और धनु राशि

मिथुन और धनु राशि का स्वामी गणेश भगवान की पूजा करनी चाहिए, ऐसा करने से आप अपने जीवन में दिन दुगुनी और रात चौगुनी तरक्की हासिल कर पाएंगे। इतना ही नहीं सभी देवताओं में भगवान गणेश को श्रेष्ठ माने जाते हैं और किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले इन्हीं की पूजा की जाती हैं।

कन्या और मीन राशि

कन्या और मीन राशि के इष्ट भगवान विष्णु हैं, इस राशि के जातकों को भगवान विष्णु के साथ-साथ देवी माँ लक्ष्मी की भी पूजा करनी चाहिए क्योंकि देवी लक्ष्मी भगवान विष्णु की अर्धांग्गिनी हैं और ये धन की भी देवी हैं।

मकर और सिंह राशि

मकर और सिंह राशि के इष्ट भगवान शिव हैं, इन राशि के जातकों को हमेशा भगवान शिव की ही पूजा करनी चाहिए। बता दें कि भगवान शिव को सावन का महिना और सोमवार का दिन अत्यंत प्रिय हैं, इसलिए सोमवार के दिन पूजा करने से आपको दुगुना लाभ मिलेगा।

कुंभ और कर्क राशि

कुंभ और कर्क राशि की कारक देवी माँ लक्ष्मी हैं। इसलिए इन राशि के जातकों को देवी माँ लक्ष्मी की ही पूजा करनी चाहिए, ये धन की भी देवी है।

loading...

Check Also

वास्तुशास्त्र : घर की सुख-समृद्धि के लिए जरुरी हैं मनी प्लांट, लेकिन कुछ गलतियों से हो सकता हैं नुकसान

वास्तुशास्त्र में घर की सुख-समृद्धि के लिए लोग पेड़-पोधों का खास महत्व माना गया है। ...