Saturday , December 4 2021
Home / ऑफबीट / MP बन रहा है इंडिया का ‘वुहान’, यहां अटैैक किया कोरोना का सबसे घातक प्रकार?

MP बन रहा है इंडिया का ‘वुहान’, यहां अटैैक किया कोरोना का सबसे घातक प्रकार?

मध्य प्रदे¥श में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। महीने भर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ती जा रही है जो कि काफी चिंताजनक है। वहीं मध्यप्रदेश में वैज्ञानिकों का मानना है कि वायरस का ये प्रकार जो कि यहां फैल रहा है वो ज्यादा प्रभावी है। यही वजह है कि मप्र में मौत की दर बढ़ रही है।

Mahatma Gandhi Memorial (MGM) Medical College इंदौर की डीन ज्योति बिंदल ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, इंदौर में भी वायरस का यही टाइप ज्यादा काम करता दिख रहा है। जिसे जांचने के लिए शहर में कोरोना की वजह से हुई मौतों में 57 सैंपल पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना वायरस का L टाइप स्ट्रेन बहुत ही घातक होता है। मध्यप्रदेश के अलावा गुजरात में भी कोरोना का यही टाइप सामने आया था, वहां कोरोना से हुई मौत दर ज्यादा होने की भी यही वजह हो सकती है। इसके अलावा केरल में इसका S टाइप स्ट्रेन मिल रहा है, जो L टाइप स्ट्रेन की अपेक्षा कमजोर होता है और वहां पर मौत की दर भी कम है। तो अनुमान लगाया जा रहा है कि वहां भी मौत दर कम होने का यही कारण है।

पेकिंग विश्वाविद्यालय और शंघाई यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने 103 मरीजों के सैंपल लेकर इसपर शोध किया, जिसमें पाया गया की इन दोनों स्तरों में लक्षणों में समान दिखने के अलाव भी दोनों में बहुत अंतर है। इसलिए इनको L और S टाइप नाम दिया गया है।

वुहान शहर में दिसंबर के महीने में वायरस का L टाइप दिखाई दिया था जो कि बहुत घातक था। लेकिन जनवरी के बाद जो भी मामले सामने आए वो S टाइप में बदल गया। S स्ट्रेन उतना खतरनाक नहीं होता है।

लेकिन इसके साथ भी एक समस्या है कि इसमें बीमारी के लक्षण ना के बराबर दिखाई देते हैं जिससे की मरीज अस्पताल जाने या टेस्ट में देर कर देता है। इस कारण संक्रमण शरीर में ज्यादा समय तक रहता है और इससे दूसरे लोगों में फैलता चला जाता है।

loading...

Check Also

पेट्रोल-डीजल की कमी के बाद अब इस देश में अंडरवियर्स और पजामे की भारी किल्लत

लंदन (ईएमएस)।आपकों जानकार हैरानी होगी कि यूके में इन दिनों अंडरवियर्स और पजामे की भारी ...