Sunday , June 13 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / रिटायरमेंट पर गाड़ी की चाबी सौंपा ड्राइवर, तो दिल जीतने वाला काम किए अफसर

रिटायरमेंट पर गाड़ी की चाबी सौंपा ड्राइवर, तो दिल जीतने वाला काम किए अफसर

लखनऊ
पूर्वोत्तर रेलवे के एक ड्राइवर को रिटायरमेँट पर जो गौरव मिला उससे वह अभिभूत हो गया है। नौकरी के 40 सालों में दर्जनों अफसरों को ऑफिस व घर पहुंचाने वाले ड्राइवर इंग्लेश जब शुक्रवार को अपने रिटायरमेंट के बाद स्टाफ कार की चाभी सीनियर डीएमई रण विजय प्रताप को सौँपी तो उन्होंने खुद इंग्लेश को घर छोड़ने का जिम्मा संभाला।

एनईआर में यह पहला मौका है कि जब किसी ड्राइवर को रिटायरमेंट के बाद ऐसा सम्मान मिला है। रण विजय प्रताप ने ड्राइवर इंग्लेश को गेट खोलकर कार की बीच की सीट पर बैठाया। उन्होंने खुद स्टाफ कार की स्टेयरिंग संभाली। इससे इंग्लेश को कार्यालय से बाहर भेजने आए कर्मचारी भी आश्चर्य चकित रह गए।

घरवाले भी हुई गदगद
रण विजय जब इंग्लेश को लेकर उनके घर पहुंचे तो उनके परिवारीजन भी उन्हें अफसरों की जगह बैठे देखकर दंग रह गए। उन्होंने इस सम्मान के लिए सीनियर डीएमई का आभार जताया। बतौर इंग्लेश यह उनके जीवन का सबसे स्वर्णिम पल है। जब किसी अफसर ने उन्हें इस तरह का सम्मान दिया है।

‘शब्दों में बयां नहीं कर सकते खुशी’
इंग्लेश ने कहा कि 40 सालों की नौकरी में वह हमेशा अधिकारियों को बैठाकर गाड़ी चलाते रहे। अधिकारियों के लिए गाड़ी का दरवाजा खोलते और बंद करते। अधिकारियों के सामने नतमस्तक रहते। लेकिन रिटायरमेंट पर जो सम्मान मिला उसे वह शब्दों में बयां नहीं कर सकते।

loading...
loading...

Check Also

बिहार ने कोरोना से मौत पर जो फर्जीवाड़ा किया, वैसा ही MP में भी हुआ!

भोपाल: बिहार के बाद मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Covid Deaths) में भी कोरोना वायरस (Corona ...