Sunday , June 13 2021
Breaking News
Home / क्रिकेट / इन क्रिकेटर्स की यारी थी निराली, किसी ने दूसरे की बीवी पर डाली नज़र तो किसी ने की गद्दारी!

इन क्रिकेटर्स की यारी थी निराली, किसी ने दूसरे की बीवी पर डाली नज़र तो किसी ने की गद्दारी!

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी अक्सर ही लड़ते झगड़ते देखे गए है. इनके झगड़े की खबर बार सुनने को मिलती रहती है. कुछ समय पहले पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना और उनके सबसे अच्छे दोस्त एमएस धोनी के विवाद की खबरें भी सामने आई थी लेकिन इस जोड़ी के अलावा कई ऐसी क्रिकेट जोड़िया रही हैं जो किसी न किसी विवाद के चलते खत्म हो गई. कई क्रिकेटरों की आपस में लड़ाई होती रही है. चलिए हम आपको टीम इंडिया के कुछ ऐसे ही प्लेयर्स के बारे में बताते है जिनके बीच काफी विवाद और लड़ाई हुई.

सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़

दरअसल जब राहुल द्रविड़ कप्तान थे तो सौरव को लगता था कि द्रविड़ कोच ग्रेग चैपल के मामले में चुप हैं. फिर 2011 मे इंटरव्यू में गांगुली ने द्रविड़ को घेरते हुए कहा- राहुल द्रविड़ ऐसे आदमी हैं, जो चाहते हैं कि हर चीज ठीक से चले. वे जानते थे कि कई चीजें गलत चल रही थी, हालाँकि उनमें चैपल से कुछ कहने की हिम्मत नहीं थी.

रवि शास्त्री और सौरव गांगुली

वहीं 2016 में कोच के लिए रवि शास्त्री ने भी इंटरव्यू दिया, ये इंटरव्यू वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुआ था क्योंकि शास्त्री बैंकॉक में मौजूद थे. शास्त्री के इंटरव्यू के दौरान गांगुली नहीं थे. तो रवि शास्त्री ने बोला कि इंटरव्यू में न आकर गांगुली ने उनका बेइज्जती की है. गांगुली ने कहा कि अगर मैं नहीं था तो वे भी नहीं थे. उन्हें बैंकॉक की बजाए इंटरव्यू के लिए भारत में होना चाहिए था.

अजहर और नवजोत सिंह सिद्धू

बता दें कि नवजोत सिद्धू के करियर में ऐसा मोड़ भी आया, जब वह 1996 में इंग्लैंड दौरा बीच में ही छोड़कर भारत आ गए. उन्होंने कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन से विवाद के चलते ऐसा किया था. सिद्धू ने अजहर को अत्याचार और बुरा व्यवहार करने का आरोपी बताया. लेकिन फिर मोहम्मद अजहरुद्दीन ने संवाद की कमी को इसका कारण बताया.

सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली

दरअसल कांबली ने आरोप लगाए थे कि उनके कप्तान, टीम के साथी, चयनकर्ता और क्रिकेट बोर्ड के कारण उनका करियर तबाह हुआ. एक शो में कांबली ने अपने बचपन के मित्र सचिन तेंदुलकर के लिए कहा कि मुश्किल समय में सचिन ने उनका साथ नहीं दिया था. वहीं सचिन ने अपनी रिटायरमेंट स्पीच में भी कांबली का नाम नहीं लिया तो इसे लेकर भी कांबली नाराज हुए.

दिनेश कार्तिक और मुरली विजय

कहते हैं कि प्यार दोस्ती के बीच में आ गया तो दोस्ती खत्म हो जाती है. कभी दिनेश कार्तिक और मुरली विजय पक्के दोस्त थे, लेकिन दोस्ती उस समय टूट गई जब दिनेश को मालूम पड़ा कि उनकी पत्नी और मुरली विजय का अफेयर चल रहा है. फिर दिनेश और निकिता का तलाक हो गया और तलाक के बाद मुरली विजय ने निकिता से शादी रचा ली.

loading...
loading...

Check Also

यूरो कप: डेनमार्क के स्टार प्लेयर मैदान पर हुए बेहोश, रोने लगे साथी खिलाड़ी, Video

यूरो कप 2020 में डेनमार्क और फिनलैंड के बीच शनिवार के दूसरे मुकाबले को मेडिकल ...