https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-91096054-1">
Friday , June 25 2021
Breaking News
Home / खबर / बिहार में क्यों हुआ 4 चरणों में लॉकडाउन, कोरोना नहीं बल्कि कुछ और ही है कारण!

बिहार में क्यों हुआ 4 चरणों में लॉकडाउन, कोरोना नहीं बल्कि कुछ और ही है कारण!

पटना।  बिहार में चार चरण में लॉकडाउन किन परिस्थितियों में किया गया? मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क्या इसके पक्ष में थे? आखिर क्या वजह रही कि लॉकडाउन करना पड़ा? दरअसल, अप्रैल के महीने में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही थी। सरकार पर दबाव बढ़ता जा रहा था। स्वास्थ्य व्यवस्था ही चरमरा गई थी। सरकार की तरफ से कुछ पाबंदियां की गई, नाइट कर्फ्यू लगाया गया, सर्वदलीय बैठक की गई, लोगों से सुझाव लिए गए, लेकिन लॉकडाउन नहीं लगाया। आखिरकार पटना हाईकोर्ट ने संज्ञान ले लिया।

पटना हाईकोर्ट ने बिहार सरकार को फटकार लगाते हुए पूछा कि आखिर क्या वजह है कि आप लॉकडाउन नहीं लगा सकते। आनन-फानन में नीतीश कुमार ने सभी अधिकारियों और मंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की। उसके बाद 5 मई से 15 मई तक पहले चरण का लॉकडाउन लगाया गया। मीडिया  आपको बताएगा पहले चरण से लेकर चौथे चरण तक लॉकडाउन बढ़ाने की वजह-

पहले चरण का लॉकडाउन

बिहार में पहले चरण के लॉकडाउन में सब कुछ बंद कर दिया था। रेस्टोरेंट, होटल, ढाबे से होम डिलीवरी के लिए छूट मिली थी, वहीं फल, सब्जी और किराना की दुकान सुबह 7:00 बजे से 11:00 बजे तक खुली रही। बाकी सेवाओं को बंद कर दिया गया था। शादी में बिना डीजे और बारात के 50 लोग ही शामिल हो सकते थे। श्राद्ध में मात्र 20 लोगों की अनुमति दी गई थी। जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी सरकारी और निजी कार्यालय बंद कर दिए गए थे।

हालांकि बिहार सरकार ने ट्रेन और हवाई जहाज से यात्रा करने वालों के लिए छूट दी थी। लॉकडाउन का परिणाम फिर बिहार सरकार ने जितना सोचा नहीं था, उससे कही बेहतर आया।

  • लॉकडाउन के 9 दिनों बाद 13 मई को बिहार में कोरोना संक्रमण की स्थिति
  • टोटल केस आए – 7752
  • एक्टिव केस रहे – 96,277
  • रिकवरी रेट रहा – 84.15%

दूसरे चरण का लॉकडाउन

पहले चरण के लॉकडाउन के बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार कम होती रही। बिहार में पॉजिटिविटी रेट कम होने लगा। रिकवरी रेट ज्यादा होने लगा। मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने के लिए तमाम जिला के अधिकारियों और अलग-अलग समुदाय से ताल्लुक रखने वाले लोगों से फीडबैक लिया। जिलों से DM लोगों से फीडबैक लेकर सीएम हाउस फीडबैक देते थे।

90 फ़ीसदी लोगों ने यह कहा कि लॉकडाउन का सकारात्मक असर है। इसका फायदा दिखा है। तो मुख्यमंत्री ने खुद सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दूसरे लॉकडाउन की सूचना दी, जो 16 मई से लेकर 25 मई तक लागू की गई। दूसरे चरण के लॉकडाउन को और सख्त बना दिया गया। शादी-ब्याह में मात्र 20 लोगों की अनुमति दी गई थी। श्राद्ध में भी 20 लोगों के जाने की अनुमति थी।

  • लॉकडाउन के 19 दिनों बाद 23 मई को बिहार में कोरोना संक्रमण की स्थिति
  • टोटल केस आए – 4002
  • एक्टिव केस रहे – 40691
  • रिकवरी रेट रहा – 93.4%

तीसरे चरण का लॉकडाउन

तीसरे चरण के लॉकडाउन की घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस अंदाज में दिया कि सकारात्मक परिणाम मिलने के बाद बिहार में 1 हफ्ते के लिए फिर से इसे बढ़ाया जा रहा है। यह लॉकडाउन 26 मई से लेकर 1 जून तक रहेगा। इस दौरान बिहार में संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार कम होती रही। बिहार का पॉजिटिविटी रेट काफी कम हो गया। रिकवरी रेट 95 फ़ीसदी से ऊपर चला गया।

मुख्यमंत्री के साथ-साथ बिहार सरकार का पूरा महकमा इस परिणाम को लेकर उत्साहित रहा। हालांकि उम्मीद यह जताई जा रही थी कि तीसरे चरण के लॉकडाउन के बाद अनलॉक शुरू होगा। लेकिन मुख्यमंत्री के मुताबिक कोरोना पर पूरी तरह से विजय पाने की इच्छा को लेकर लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया। तीसरे लॉकडाउन में सख्तियां उतनी ही रही जितनी दूसरे लॉकडाउन में थी।

  • लॉकडाउन के 26 दिनों बाद 30 मई को बिहार में कोरोना संक्रमण की स्थिति
  • टोटल केस आए – 1475
  • एक्टिव केस रहे – 18317
  • रिकवरी रेट रहा – 96.7%

चौथे चरण का लॉकडाउन

बिहार में चौथे चरण का लॉकडाउन 2 जून से 8 जून तक बढ़ा दिया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप, मंत्रियों और अधिकारियों की अलग-अलग बैठक हुई। इसके बाद CM ने सोशल मीडिया के जरिए लॉकडाउन बढ़ाने की जानकारी दी।

CM ने बताया कि लॉकडाउन के बावजूद व्यापारियों को राहत देते हुए सभी दुकानें एक दिन छोड़कर यानी अल्टरनेट डे खुलेंगी। जिलों के DM यह फैसला करेंगे कि किस तरह की दुकानें किस दिन खुलेंगी। इसके अलावा, अभी खुल रही आवश्यक वस्तुओं की दुकानें अब सभी जगह (ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में) सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुल सकेंगी। सभी सरकारी कार्यालय 25% उपस्थिति के साथ शाम चार बजे तक खुलेंगे। सभी प्राइवेट कार्यालय अभी भी बंद रहेंगे।

loading...
loading...

Check Also

WTC Final में हार से मायूस विराट ने दिया बड़ा बयान, टीम से इन 4 का होगा पत्ता साफ!

नई दिल्ली:  बुधवार को WTC Final 2021 में न्यूजीलैंड के हाथों मिली हार के बाद ...