https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-91096054-1">
Thursday , June 24 2021
Breaking News
Home / खबर / ‘कातिल’ हैं पेड़ों के बीच रखे ये आम, इनकी वजह से मासूमों की चली गई जान!

‘कातिल’ हैं पेड़ों के बीच रखे ये आम, इनकी वजह से मासूमों की चली गई जान!

रघुनाथनगर. बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के रघुनाथनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक गांव में आकाशीय बिजली (Sky Lightning) की चपेट में आने से 13-13 वर्ष के 2 बच्चों की मौत हो गई। दरअसल दोनों बच्चे सोमवार की दोपहर बगीचे में आम बीनने गए थे। इसी दौरान बारिश होने लगी तो बचने के लिए पेड़ के नीचे खड़े हो गए थे। पेड़ के बीच में ही उन्होंने बीने हुए आमों को रख दिया था। उन्हें क्या मालूम था कि उन्हें ये आम नसीब नहीं होंगे। बच्चों की मौत से उनके परिजनों गांव में मातम पसरा हुआ है।

रघुनाथनगर थाना क्षेत्र के ग्राम तोरफा निवासी 5 वीं कक्षा में पढऩे वाले 13-13 वर्ष के 2 छात्र दोपहर में हवा चलने पर बगीचे में आम बीनने गए थे। दोपहर बाद अचानक मौसम बदला और तेज गरज-चमक के साथ बारिश शुरु हो गई। यह देख आम बीन रहे दोनों बच्चे एक पेड़ के नीचे खड़े हो गए।

इसी बीच वहां तेज गर्जना के साथ आकाशीय बिजली गिरी, इसकी चपेट में दोनों छात्र आ गए। इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। वहां से कुछ दूरी पर मौजूद अन्य लोगों ने यह देखा तो गांव में सूचना दी। सूचना मिलते ही दोनों के परिजन तथा काफी संख्या में ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे।

वहीं रघुनाथनगर पुलिस भी मौके पर पहुंची और शवों को बरामद कर पीएम के लिए रघुनाथनगर अस्पताल में भिजवाया। जिस जगह पर आकाशीय बिजली गिरी वहां बच्चों ने पेड़ के बीच में बीने हुए आमों को भी रखा था। यह देख लोग भावुक हो गए।

परिजनों में पसरा मातम
आकाशीय बिजली गिरने की घटना में एक साथ गांव के 2 बच्चों की मौत से उनके परिजनों का रो-रोकर जहां बुरा हाल है, वहीं गांव में भी मातम पसरा हुआ है। इधर रघुनाथनगर भाजपा मंडल के नेताओं ने घटना पर शोक व्यक्त किया है।

loading...
loading...

Check Also

चीन का गुनाह: कोरोना के शुरुआती मरीजों का डिलीट किया डेटा, ताकि कुछ न जाने दुनिया!

कोरोना वायरस के स्रोत को लेकर घिरे चीन और उसकी वुहान लैब के बारे में ...