Sunday , June 13 2021
Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / UP में कोरोना: आंकड़े कम होते ही शुरू हुई लापरवाही, देखें लेटेस्ट अपडेट्स

UP में कोरोना: आंकड़े कम होते ही शुरू हुई लापरवाही, देखें लेटेस्ट अपडेट्स

उत्तर प्रदेश में कोरोना का संक्रमण अब धीरे धीरे कमजोर होता जा रहा है। लेकिन संक्रमित मरीजों की संख्या कम होते ही लोगों में लापरवाही भी देखने को मिल रही है। स्वास्थ्य विभाग ने लोगों से अपील की है कि लोग एहतियात बरतें और जरूरी हो तभी बाहर निकलें। इस बीच यूपी में गुरुवार को कुल 1268 लोगों में संक्रमण की पुष्टि की गई है जबकि 108 की मौत हुई है। दूसरी तरफ स्वस्थ होने वाले लोगों के भी तादाद में तेजी से बढ़ोत्तरी देखने को मिली है। 4260 लोगों को विभिन्न अस्पताल से स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है।

राजधानी लखनऊ में 75 नए संक्रमित मरीज मिले हैं वहीं 6 ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। यहां 283 लोगों ने कोरोना को हराया है। 66 पॉजिटिव मरीजों के साथ सहारनपुर दूसरे स्थान पर है। यहां दो मरीजों की मौत हुई है। यहां 236 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि सहारनपुर में मौतों के आंकड़े लगातार कम रहे हैं।

  • मुजफ्फरनगर में 65 कोरोना मरीज मिले हैं जबकि इलाज के दौरान 4 मरीजों की सांसें थम गई। यहां 134 लोगों ने कोरोना को मात दिया है। मेरठ में कोरोना तेजी से फैल रहा है। यहां कुछ दिनों पहले लोगों ने जांच को लेकर सवाल उठाए थे। जांच के बावजूद आंकड़ों में कमी होने से लोग संतुष्ट नहीं हुए हैं। मेरठ में 55 पॉजिटिव मरीज मिले हैं जबकि 6 की मौत हो गयी। वहीं 225 ने कोरोना को हराया है। इन सभी को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है।
  • गोरखपुर अभी कोरोना वायरस से मुक्त नहीं हो पाया है। यहां 44 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है जबकि 9 की जान चली गयी। वहीं 166 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है। यहां मौतों के आंकड़े काफी अधिक रहे हैं। विपक्ष ने भी कई बार सरकार को घेरा था। थोड़ी तैयारी दिखी लेकिन आंकड़े बहुत कम नहीं हुए।
  • इसी तरह बुलंदशहर में भी 44 संक्रमित मिले हैं। 4 की मौत हुई है। वहीं 96 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। कुशीनगर में 41 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इतने ही मरीज़ स्वस्थ भी हुए हैं। जबकि 1 ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।
  • गौतमबुद्धनगर नोएडा में भी संक्रमण का काफी प्रभाव है। यहां 40 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं वहीं 3 की मौत हुई है। यहां 149 लोगों ने कोरोना को हराया है। दिल्ली के करीब होने की वजह से नोयडा में कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराया जा रहा है।
  • शामली जिले में भी 40 लोग कोरोना की चपेट में आये हैं यहां 55 ने कोरोना को हराया है। हालांकि यहां मौतों का आंकड़ा शून्य है। इसी तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी कोरोना से पूर्ण रूप से मुक्त नहीं हो पाया है। यहां स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से लोगों में खासी नाराज़गी है। जांच को लेकर सवाल उठ रहे हैं। वाराणसी में 36 लोगों में संक्रमण मिला है हालांकि यहां किसी की मौत नहीं हुई है जबकि 164 लोगों ने कोरोना से जंग जीती है।
loading...
loading...

Check Also

करगिल विजय की कहानी: आज ही मिली थी पहली जीत, तोलोलिंग चोटी पर लहराया तिरंगा

आज से 22 साल पहले करगिल युद्ध लड़ा गया था। करगिल युद्ध में सबसे पहली ...