Tuesday , November 30 2021
Home / ऑफबीट / चींटियाँ लाइन में ही क्यों चलती हैं, क्या कभी सोचा आपने ?

चींटियाँ लाइन में ही क्यों चलती हैं, क्या कभी सोचा आपने ?

आपने घर के दिवारो या जमीन पर चीटियों को कई बार चलते देखा होगा और आपने ध्यान से देखा होगा की सभी चीटियाँ एक लाइन में चलती है | लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की आखिर सारी चीटियाँ ऐसा क्यों करती है, तो चलिए इस लेख के जरिया इसका कारण पता करते है  –

दोस्तों चीटियों की सूंघने की शक्ति बहुत तेज़ होती है जब चीटीयॉ खाने की खोज में निकलती हैं तो ये कई अलग-अलग फेरोमोंस (Pheromones) नाम की गंध पैदा करती हैं, हर एक गंध का अपना अलग उद्देश्य होता है। जैसा की चींटियों को कॉलोनी के लिए खतरे का संकेत देने के लिए या किसी स्थान के बारे में निर्देश देने के लिए |

चींटियाँ जब भोजन की तलाश में घर से बाहर निकलती है, तो यह फेरोमोंस (Pheromones) गंध पीछे छोड़ जाती है जिससे उनके पीछे चलने वाली चीटियॉ उस गंद को सूॅघ कर पीछा करती है ताकि भटके नहीं और जो की एक कतार या लाइन बन जाती है यही कारण है कि हमें चीटियॉ हमेशा लाइन में ही चलती हुई दिखाई देती हैं |

और आपने कई बार देखा होगा की अगर कोई मीठी चीज़ जमीन गिर जाती है तो एक-दो चीटियाँ आती है फिर कुछ घंटे बाद चीटियों का झुण्ड आ जाता है| क्योकि जब कोई चींटी भोजन पाती है, तो वह उसका एक छोटा टुकड़ा लेकर वापस लौटते समय निशान के साथ गंध छोड़ती है। जिससे कॉलोनी के अन्य चींटियों को भोजन के स्रोत तक पहुंचने का रास्ता पता चले।

चींटियों के बारे में रोचक तथ्य-1. चींटियों में काफ़ी शक्ति और मजबूती होती हैं। वे अपने शरीर के वजन के 10 से 50 गुना के बीच ले जाने की क्षमता रखते हैं! यह अद्भुत ताकत उनके छोटे आकार का परिणाम है.

2. दुनिया भर में 12,000 से अधिक चींटी प्रजातियां पाई जाती है.

3. दुनिया भर में जितनी भी चीटियाँ है उनमे से (bullet ant) नाम चीटी का काटना सबसे ज्यादा दर्दनाक माना गया है.

4. आग चींटियों (Fire ant) के कारण एक वर्ष में £ 3 बिलियन से अधिक का नुकसान होता है ! इन चीटियों के काटने से जलन सा महसूस होता है, इसलिए इसका नाम “फायर चींटी” रखा है, जिसकी लागत हर साल अमेरिका में पशु चिकित्सा के बिल लाखों में आते है और किसान की फसलों को नुकसान पहुँचाने के लिए भी जाना जाता है।

5. चींटियों के फेफड़े नहीं होते। ऑक्सीजन पूरे शरीर में छोटे छिद्रों के माध्यम से प्रवेश करता है और कार्बन डाइऑक्साइड एक ही छेद के माध्यम से निकलता है।

6. एक रिसर्च से पता चला है की कुछ चींटियां इस ग्रह कुछ हफ्तों तक जिन्दा रहती हैं। हालांकि,चीटियों की रानी  वर्षों तक जिन्दा रह सकती हैं।

7. चींटियों का जनम लगभग 130 मिलियन साल पहले हुआ था जिसका मतलब चींटियाँ डायनासोर जितनी ही पुरानी हैं |

loading...

Check Also

बर्फीले इलाकों में पाए जाने वाले काले सफेद पक्षी पेंग्विन हो सकते हैं एलियंस !

-मिले दूसरे ग्रह से ‘कनेक्शन’ के सबूत लंदन । धरती पर बर्फीले इलाकों में पाए ...